Zydus Cadila का दावा: कोरोना वायरस के इलाज में कारगर है Virafin! जानें कितने में मिलेगी 1 डोज

Zydus Cadila की कोरोना मेडिसिन विराफिन को आपात इस्‍तेमाल की मंजूरी दी गई है.

Zydus Cadila की कोरोना मेडिसिन विराफिन को आपात इस्‍तेमाल की मंजूरी दी गई है.

फार्मास्‍युटिकल्‍स कंपनी जायडस कैडिला (Zydus Cadila) का दावा है कि उसकी कोरोना दवाई विराफिन (Virafin) मरीजों में ऑक्‍सीजन सपोर्ट की जरूरत को कम (Reduce Oxygen Support Requirement) करती है. कंपनी ने अपनी इस दवा को भेजना (Dispatch) शुरू कर दिया है.

  • Share this:

नई दिल्‍ली. देश में हर दिन कोरोना वायरस के लाखों नए मामले सामने (Coronavirus Cases in India) आ रहे हैं. इस बीच दुनियाभर के वैज्ञानिक व विशेषज्ञ इससे निपटने के लिए नई-नई दवाइयां (Covid-19 Medicines) बना रहे हैं. अभी भी कई कोरोना वैक्‍सीन (Coronavirus Vaccine) पर काम चल रहा है. इसी कड़ी में फार्मास्‍युटिकल्‍स कंपनी जायडस कैडिला (Zydus Cadila) की कोरोना मेडिसिन 'विराफिन' (Virafin) को कोरोना संक्रमण के मॉडरेट मामलों (Moderate Cases) में आपातकालीन इस्‍तेमाल की मंजूरी दे दी गई है. अब जायडस कैडिला ने अपनी इस दवा की कीमत (Price of Drug) तय कर दी है. फार्मा कंपनी का दावा है कि उसकी कोविड-19 मेडिसिन इलाज के दौरान ऑक्‍सीजन सपोर्ट की जरूरत को कम कर देती है.

DGCI ने सिंगल-यूज थेरैपी के तौर पर इस्‍तेमाल की दी मंजूरी

देश के दवा नियामक ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DGCI) ने 23 अप्रैल 2021 को कोरोना मेडिसिन विराफिन को सिंगल यूज थेरैपी के तौर पर इस्‍तेमाल करने की मंजूरी दे दी है. जायडस कैडिला ने विराफिन की एक डोज की कीमत 11,995 रुपये तय की है. कंपनी ने विराफिन की आपूर्ति शुरू कर दी है. कंपनी का दावा है कि विराफिन को संक्रमण के मॉडरेट मामलों में इस्‍तेमाल किया जा सकता है. बता दें कि जब संक्रमित व्‍यक्ति में वायरल लोड (Viral Load) मॉडरेट और हाई के बीच होता है तो ऑक्‍सीजन सपोर्ट की जरूरत तेजी से बढ़ती जाती है. कंपनी ने दावा किया है कि विराफिन के इस्‍तेमाल से मरीज में वायरल लोड कम होता जाएगा और ऑक्‍सीजन सपोर्ट की जरूरत कम (Reduces Oxygen Support Requirement) होती जाएगी.

ये भी पढ़ें- Gold Price Today: सोना कई दिन की तेजी के बाद गिरा, चांदी 71 हजार के नीचे आई, फटाफट देखें नए भाव
1 डोज से 7वें दिन ठीक हुए मॉडरेट वायरल लोड वाले मरीज

कैडिला हेल्‍थकेयर लिमिटेड के प्रबंध निदेशक डॉ. शर्विल पटेल ने कहा कि विराफिन को सही समय पर दिया जाए तो ये तेजी से वायरल लोड को कम कर देती है. ये दवा ऐसे समय पर आई है, जब लोग इसकी बेहद जरूरत महसूस कर रहे हैं. हम कोरोना के खिलाफ लड़ाई में लोगों को लगातार ये दवा मुहैया कराते रहेंगे. जायडस कैडिला ने दावा किया है कि 91.15 फीसदी कोरोना मरीज PegIFN से इलाज करने के 7वें दिन ही आरटी-पीसीआर जांच (RT-PCR Test) में निगेटिव हो गए थे. कंपनी ने कहा कि तीसरे चरण के ट्रायल में मॉडरेट वायरल लोड वाले ज्‍यादातर मरीज एक डोज देने के 7वें दिन ही पूरी तरह से ठीक हो गए थे. इस ट्रायल के नतीजों के आधार पर डीसीजीआई ने इसके आपात इस्‍तेमाल की मंजूरी दे दी है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज