लाइव टीवी

अगर आपके अंदर हैं ये 10 खूबियां तो चुटकियों में क्रैक कर लेंगे IAS का इंटरव्यू

News18Hindi
Updated: January 20, 2020, 6:04 AM IST
अगर आपके अंदर हैं ये 10 खूबियां तो चुटकियों में क्रैक कर लेंगे IAS का इंटरव्यू
अगर आपके अंदर ये 10 खूबियां हैं तो आप चुटकियों में IAS का इंटयव्यू क्रैक कर लेंगे.

संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) द्वारा आयोजित आईएएस (IAS) में साक्षात्कार सबसे महत्पूर्ण होता है. यहां केवल आपके ज्ञान का ही नहीं बल्कि आपकी निर्णय क्षमता और व्यवहारिक दक्षता का आंकलन भी किया जाता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 20, 2020, 6:04 AM IST
  • Share this:
IAS Interview Tips: संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) द्वारा आयोजित आईएएस (IAS) की परीक्षा में साक्षात्कार सबसे महत्पूर्ण हिस्सा होता है. इसमें आपकी निर्णय लेने की क्षमता और व्यवहारिक दक्षता का आंकलन किया जाता है. आज हम आपको कुछ ऐसी खूबियों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनके सहारे आप चुटकियों में IAS का साक्षात्कार क्रैक कर सकते हैं.

1. व्यक्तित्व
यूपीएससी की परीक्षा में इंटरव्यू को उम्मीदवार के व्यक्तित्व परीक्षण के रूप में शामिल किया जाता है. इंटरव्यू में साक्षात्कार बोर्ड आपके व्यक्तित्व पर नज़र डालता है. इसलिए IAS के इंटरव्यू को क्रैक करने के लिए आपको आकर्षक और मनभावन व्यक्तित्व विकसित करना होगा. जिसमें आपमें एक IAS अधिकारी के लिए आवश्यक गंभीरता भी नजर आए. इनमें मानसिक सतर्कता, सामाजिक अस्मिता और महत्वपूर्ण समस्याओं के लिए केंद्रित दृष्टिकोण, नैतिक अखंडता, ईमानदारी, व्यक्तिगत हितों और सामाजिक आर्थिक जागरूकता और नेतृत्व गुण शामिल हो सकते हैं.

2. मानसिक सतर्कता

IAS के इंटरव्यू में साक्षात्कार के दौरान पूछ लिया जाता है कि गेट से यहां तक आने में आपको कितनी सीढ़ियां चढ़नी पड़ीं. साक्षात्कार पैनल अक्सर छात्रों की मानसिक सतर्कता की जांच करने के लिए इस तरह के सवाल पूछता है. अत: आपको सभी परिवेशों के लिए मानसिक रूप से सतर्क रहना चाहिए. आपको अपने आस-पास होने वाली हर चीजों के बारे में ध्यान रखना चाहिए.

3.सामाजिक शिष्टाचार
IAS के इंटरव्यू में आप सामाजिक शिष्टाचार के द्वारा अपने व्यक्तित्व को निखार सकते हैं . याद रखें कि आप अभिजात वर्ग के भारतीय प्रशासनिक सेवा का हिस्सा बनने के लिए एक साक्षात्कार दे रहे हैं. इस पद पर नियुक्त होने के बाद आप भारत सरकार के प्रत्यक्ष प्रतिनिधि के रूप में कार्य करेंगे. आपको सेवा के दौरान उच्च-स्तरीय अधिकारियों के साथ-साथ राज्य के गणमान्य व्यक्तियों और विभिन्न क्षेत्रों के प्रतिष्ठित व्यक्तित्व के साथ मिलना और काम करना पड़ेगा. इसलिए सभी के बीच तालमेल बैठने के लिए आपके अंदर सामाजिक शिष्टाचार होना जरूरी है. इसे साक्षात्कार पैनल गहराई से देखता है.4. अच्छे श्रोता बनें
UPSC द्वारा स्पष्ट किया गया है कि सिविल सेवा परीक्षा के लिए साक्षात्कार में उम्मीदवार के ज्ञान की नहीं बल्कि उनके व्यक्तित्व का परीक्षण किया जाता है. साक्षातकार के समय कई उम्मीदवार उत्तेजना में या घबराहट में रहते हैं, जो वास्तव में सवाल सुने या समझे बिना प्रश्नों का उत्तर दे रहे होते हैं. इससे बचें और पैनल की सभी बातों को ध्यान से सुनें.

5.तार्किक और लक्षित उत्तर
आईएएस के अधिकांश उम्मीदवारों को यह समझने की जरूरत है कि सिविल सेवा परीक्षा में एक विशेष प्रश्न के माध्यम से साक्षात्कार पैनल आपके ज्ञान की गहराई का आकलन करने की कोशिश करता है. यह भी देखता है कि जिन विषयों में आपका ज्ञान सीमित है उनका जवाब आप किस चतुराई के साथ देते हैं. IAS अधिकारियों को अक्सर कई प्रकार की समस्याओं, मुद्दों और विषयों से निपटना पड़ता है जो जरूरी नहीं कि उनके कम्फर्ट जोन में आते हैं, लेकिन फिर भी उन्हें हल करना होता है. इसलिए उनके लिए तार्किक और लक्षित उत्तर देने का कला आनी जरूरी है.

6. समसामयिकी पर पकड़
यूपीएससी साक्षात्कार सहित सिविल सेवा परीक्षा के सभी चरणों में वर्तमान मामलों, सामान्य ज्ञान और समकालीन सामाजिक-राजनीतिक परिदृश्य पर बहुत जोर दिया जाता है. इसके पीछे का मुख्य कारण उम्मीदवा को अपने आस-पास नवीनतम घटनाओं के बारे में जानकारी को बढ़ाना होता है. ऐसी जानकारी सामाजिक, आर्थिक या राजनीति के क्षेत्रों में होनी जरूरी है. साक्षात्कार के चरण के दौरान, उम्मीदवारों को पहले से अधिक वर्तमान मामलों पर ध्यान केंद्रित करने की आवश्यकता होती है, क्योंकि साक्षात्कार पैनल में विभिन्न क्षेत्रों के विषय विशेषज्ञ शामिल होते हैं.

7. बुद्धिमत्तापूर्ण बात करने का गुण
IAS के साक्षात्कार में पैनल के साथ विचारों के आदान-प्रदान के साथ एक बुद्धिमत्ततापूर्वक बात करनी चाहिए. यदि आप यूपीएससी की वेबसाइट जाते हैं, तो पाएंगे कि साक्षात्कार के चरण को 'उद्देश्यपूर्ण वार्तालाप' कहा जाता है. जिसका उद्देश्य उम्मीदवार के मानसिक गुणों को प्रकट करना है. एक बातचीत से उम्मीदवार की बुद्धिमत्ता को भांपता है.

8. सामाजिक आर्थिक मुद्दे
IAS के साक्षात्कार के दौरान बातचीत का दूसरा सबसे महत्वपूर्ण विषय सामाजिक आर्थिक मुद्दए होता है. इसके पीछे कारण है कि एक सिविल सेवक के रूप में आप इन मुद्दों को सुलझाने का काम करेंगे. भारत की विविधता को ध्यान में रखते हुए, ये सामाजिक मुद्दे कुछ प्रासंगिक हो सकते हैं जैसे गरीबी और भ्रष्टाचार कुछ तकनीकी के रूप में भारत में घरेलू क्रायोजेनिक रॉकेट इंजन के विकास आदि.

9. व्यक्तिगत अनुभव
साक्षात्कार में व्यक्तिगत अनुभव उम्मीदवारों के लिए महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं. हर आदमी के पास अनुभवों का एक समूह होता है. इसलिए, जब आईएएस इंटरव्यू की बात आती है, तो आपके व्यक्तिगत अनुभव आपकी बहुत मदद कर सकते हैं. साक्षात्कार पैनल द्वारा पूछे गए अधिकांश प्रश्न भारत के विभिन्न क्षेत्रों में एक देश के रूप में सामने आने वाली सामान्य सामाजिक आर्थिक और राजनीतिक समस्याओं से संबंधित होंगे.

10. ईमानदारी और अखंडता
IAS के साक्षात्कार में आपके प्रदर्शन को प्रभावित करने वाले सबसे महत्वपूर्ण कारक ईमानदारी और अखंडता हैं, जिसके साथ आप अपने समक्ष रखे गए प्रश्नों का उत्तर देना चाहते हैं. आपकी राय जितनी ईमानदार होगी, आपके चुने जाने की संभावना उतनी ही बेहतर होगी. भारतीय नौकरशाही पर सभी के द्वारा एक भ्रष्ट एजेंसी होने का आरोप लगाया गया है, और ये पैनलिस्ट इस रैंक में किसी अन्य बेईमान अधिकारी को जोड़ने में रुचि नहीं रखते हैं.

कुल मिलाकर IAS के उम्मीदवारों को यह याद रखना चाहिए कि साक्षात्कार पैनल में अनुभवी विशेषज्ञ शामिल हैं, इसलिए अपने मूल विचार प्रक्रिया और अपने स्वयं के साक्षात्कार में आपके द्वारा कहे गए हर काम में सच्चाई दिखनी चाहिए.

ये भी पढ़ें-  IAS Success Story: कभी होटल में वेटर रहे शख्स ने सातवें प्रयास में पास किया IAS का एग्जाम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए करियर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 20, 2020, 6:04 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर