जामिया यूनिवर्सिटी के 101 छात्रों ने पास की UPSC की Prelims परीक्षा, 16 लड़कियां भी हुईं कामयाब

जामिया मिल्लिया इस्लामिया के 283 छात्रों ने यह परीक्षा दी थी, जिसमे से 101 छात्र कामयाब हुए हैं.
जामिया मिल्लिया इस्लामिया के 283 छात्रों ने यह परीक्षा दी थी, जिसमे से 101 छात्र कामयाब हुए हैं.

जामिया मिल्लिया यूनिवर्सिटी (Jamia millia university) की कुलपति प्रोफेसर नजमा अख्तर ने कहा कि यूपीएससी (UPSC) परीक्षाओं में यूनिवर्सिटी की आरसीए ने साल दर साल लगातार अच्छा प्रदर्शन किया है, जो जामिया के लिए बहुत गर्व और संतोष की बात है. हमें आने वाले वर्षों में और भी बेहतर नतीजों की उम्मीद है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 25, 2020, 11:38 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. यूपीएससी सिविल सर्विस प्रारंभिक परीक्षा 2020 (UPSC Prelim Exam)  का रिज़ल्ट जारी हो चुका है. यह परीक्षा 4 अक्टूबर को आयोजित की गई थी. खास बात यह है कि इस प्री परीक्षा में जामिया मिल्लिया यूनिवर्सिटी (Jamia millia university) के 101 छात्र भी सफल हुए हैं. इसमे से 10 लड़कियां भी हैं. अब यह सभी छात्र जनवरी में होने वाली मेंस परीक्षा में शामिल होंगे. जामिया की रेजिडेंशियल कोचिंग एकेडमी (RCA) से इस परीक्षा में 283 छात्र शामिल हुए थे.

यूपीएससी 2019 में 30 छात्र हुए थे सेलेक्ट

जामिया मिल्लिया इस्लामिया की आवासीय कोचिंग अकादमी (आरसीए) में कोचिंग देने और प्रशिक्षण पाने वालों में से 30 उम्मीदवार सिविल सेवा परीक्षा 2019 में सेलेक्ट हुए थे. जामिया प्रशासन का दावा है कि देश के किसी भी सार्वजनिक कोचिंग सेंटर से यह सबसे बड़ा चयनित समूह है.



यह भी पढ़ें-सरकारी गोदामों में सड़ गया 32,000 टन प्याज! बफर स्‍टॉक में बचा सिर्फ 25 हजार टन
students, Jamia millia university, UPSC Prelims exam result, UPSC mains exam, Residential Coaching Academy, RCA, muslim, IAS, IPS, छात्र, जामिया मिलिया विश्वविद्यालय, यूपीएससी प्रारंभिक परीक्षा परिणाम, यूपीएससी मुख्य परीक्षा, आवासीय कोचिंग अकादमी, आरसीए, मुस्लिम, आईएएस, आईपीएस
यह है जामिया मिल्लिया यूनिवर्सिटी परिसर में बनी रेजिडेंशियल कोचिंग एकेडमी.


30 कामयाब छात्रों में थीं 06 लड़कियां

चयनित 30 उम्मीदवारों में से 06 के आईएएस, 08 के आईपीएस बनने की उम्मीद है. बाकी उम्मीदवारों को उनकी रैंकिंग और विकल्पों के अनुसार आईआरएस, ऑडिट एंड अकाउंट सेवा, आईआरटीएस तथा ग्रुप-ए की अन्य सेवाएं मिलेंगी. इस साल आरसीए से कोचिंग पाने वालों में से रूचि बिंदल का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन रहा, जिन्होंने 39 वां रैंक हासिल किया. आरसीए के कामयाब 30 उम्मीदवारों में से 06 लड़कियां हैं.

साल दर साल लगातार अच्छा प्रदर्शन

आरसीए के अच्छे प्रदर्शन के लिए, प्रो अख्तर व्यक्तिगत रूप से मार्गदर्शन कर रही हैं और आरसीए को उत्कृष्टता की ओर ले जाने के लिए उसे हर मुमकिन सहायता प्रदान करा रही हैं. उन्होंने सभी कामयाब छात्रों और उनके परिवार को बधाई दी. पिछले साल यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा में तीसरा रैंक पाने वाले जुनैद अहमद आरसीए, जेएमआई से स्टार परफार्मर थे.



2019 तक आरसीए ने 230 सिविल सेवक दिए

साल, 2010-2011 में अपनी स्थापना से वर्ष 2019 तक आरसीए ने 230 सिविल सेवक बनाए हैं, जिनमें कई आईएएस, आईएफएस और आईपीएस शामिल हैं. इसके अलावा, 285 से अधिक छात्रों को विभिन्न अन्य केंद्रीय और राज्य सेवाओं यानी सीएपीएफ, आईबी, आरबीआई (ग्रेडबी), एपीएफ, बैंक पीओ और पीसीएस आदि में भी चुना गया है. इस साल आरसीए के 14 छात्र जम्मू-कश्मीर की सीविल सेवाओं में शामिल हुए. 24 छात्र यूपीपीएससी साक्षात्कार के क्वालिफाई हुए और 15 छात्र बीपीएससी साक्षात्कार के लिए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज