तेलंगाना में विवादों में घिरा बोर्ड रिजल्ट, सात दिन में 20 बच्चों ने की आत्महत्या

इस साल 9.74 लाख छात्रों ने परीक्षा में हिस्‍सा लिया लिया था. इसमें 3.28 लाख फेल हो गए, जिनकी कॉपियां दोबारा जांची जाएंगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 25, 2019, 3:59 PM IST
  • Share this:
एक सप्‍ताह पहले तेलंगाना बोर्ड इंटरमीडिएट परीक्षा के नतीजे जारी होने के बाद अब तक 20 छात्रों ने आत्‍महत्‍या कर ली है. इसे लेकर छात्रों के माता-पिता विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. तेलंगाना बोर्ड ऑफ इंटरमीडिएट एजुकेशन (TSBIE) इंटरमीडिट के नतीजों को देखते हुए राज्‍य सरकार ने इस साल परीक्षा में फेल हुए 3 लाख से ज्‍यादा छात्रों की कॉपियों को दोबारा जांचने का आदेश दे दिया है. परीक्षा के नतीजे 18 अप्रैल को घोषित किए गए थे. इस साल परीक्षा में करीब 9.74 लाख छात्रों ने हिस्‍सा लिया था. इसमें से 3.28 लाख फेल हो गए थे. राज्‍य के मुख्‍यमंत्री केसीआर ने इस मामले में एमर्जेंसी मीटिंग बुलाई, जिसमें शिक्षा मं‍त्री के साथ अन्‍य संबंधित अधिकारी भी मौजूद थे.

निजी कंंपनी को सौंंपी थी ज‍िम्‍मेदारी

राज्‍य सरकार ने इस साल परीक्षा के लिए रजिस्‍ट्रेशन से लेकर रिजल्‍ट जारी करने तक की जिम्‍मेदारी एक निजी फर्म ग्‍लोबरेना टेक्‍नोलॉजीज को दी थी. छात्रों और अभिभावकों का कहना है कि फर्म ने बड़ी लापरवाही करते हुए छात्रों को फेल कर दिया है.



Telangana intermediate results 2019: री-काउंटिंग, री-वेरिफिकेशन, सप्लीमेंट्री एग्जाम की लास्ट डेट बढ़ी
हमेशा अच्‍छा परफॉर्म करने वाले छात्र को क‍िया फेल

आत्‍महत्‍या करने वाले छात्रों में एक छात्र जी नागेंद्र भी था, जो नारायना कॉलेज में पढ़ाई करता था. मैथ्‍स में फेल होने के बाद नाग्रेंद्र ने आत्‍महत्‍या कर ली. नाग्रेंद्र के पिता जी विवेकानंद ने बताया कि उनका बेटा पढ़ाई में अच्‍छा था और वह यह बात को स्‍वीकार नहीं कर पाया कि वह मैथ्‍स में फेल हो सकता है, जो कि उसका सबसे पसंदीदा विषय था. कुछ दिनों से वह कटा-कटा रहने लगा था. खाने से इंकार कर रहा था. उसे लगा कि इसके बाद जिंदगी खराब हो गई है.

रिपोर्ट के अनुसार फर्म ने ऐसे छात्रों को 5 से 10 अंक दिए हैं, जो पढ़ाई में हमेशा अव्‍वल रहते हैं और कुछ छात्रों को परीक्षा में भाग लेने के बावजूद एब्‍सेंट दिखाया है.

Manabadi TS Intermediate Results 2019: News18 Hindi पर डायरेक्‍ट देखें अपना तेलंगाना बोर्ड इंटरमीडिएट रिजल्‍ट, यहां क्‍ल‍िक करें

तेलगु में दिए 0 अंक

12वीं की छात्रा जी. नाव्‍या को तेलगु पेपर में 0 अंक प्राप्‍त हुए थे. नाव्‍या ने अपना तेलगु पेपर री-इवैल्‍युएशन के लिया दिया. री-इवैल्‍युएशन करने पर नाव्‍या को जिस पेपर में 0 अंक प्राप्‍त हुए थे, उसमें 99 अंक प्राप्‍त हुए. इसके बाद बुधवार को विरोध प्रदर्शन ने जोर पकड़ लिया. नव्या का मामला इस संदेह को मजबूत करता है कि रिजल्‍ट तैयार करने में कई गड़बडि़यां हुई हैं. इसके कारण ज्यादातर छात्रों को विफल कर दिया गया है.

तेलंगाना पेरेंट्स एसोसिएशन द्वारा एक जनहित याचिका के आधार पर, उच्च न्यायालय ने मंगलवार को TSBIE को असफल छात्रों की उत्तरपुस्तिकाओं को फिर से जांचने को कहा है. तेलंगाना शिक्षा विभाग ने अदालत को बताया कि इस प्रक्रिया में कम से कम दो महीने लगेंगे और कहा कि वह चर्चा के बाद जवाब प्रस्तुत करेगा.

यह भी पढ़ें : UP Board Result 2019: इस बार की बोर्ड परीक्षा में जानें क्या था खास

विरोध प्रदर्शन तेज होने के साथ, राज्य सरकार ने परीक्षा पत्र के पुनर्मूल्यांकन और जांच के आदेश दिए हैं. इसके बाद एक टीम बनाई गई गई है, जो ग्‍लोबरेना सिस्‍टम की खामियों की जांच करेगी. इंडियर एक्‍सप्रेस में प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार तेलंगाना शिक्षा मंत्री जी. जगदीश रेड्डी ने कहा कि वह कमेटी की रिपोर्ट का इंतजार कर रहे हैं. इसके बाद ही इस घटना के पीछे के कारणों का पता चल सकेगा. इसके पीछे जो भी होगा, उसे सजा जरूर मिलेगी.

सूत्रों के अनुसार डाटा प्रोसेसिंग का काम ग्‍लोबरेना टेक्‍नोलॉजी को दिया गया था. दरअसल, ग्‍लोबरेना टेक्‍नोलॉजी का ट्रैक रिकॉर्ड अच्‍छा नहीं रहा है और उसके खिलाफ कई शिकायते भी दर्ज हैं.

साल 2015 में भी ग्‍लोबरेना ने JNTU, काकीनाडा के एग्‍जामिनेशन ऑ‍टोमेशन वर्क को लागू नहीं किया था. इसके कारण लाखों छात्रों को मुश्‍क‍िल दौर से गुजरना पड़ा था.  इसे लेकर JNTU ने ग्‍लोबरेना के खिलाफ पुलिस शिकायत भी की थी. इसके बावजूद तेलंगाना सरकार ने फर्म को कॉन्‍ट्रैक्‍ट दे दिया और एक बार फिर ग्‍लोबरेना ने खराब काम किया है. इसके कारण 18 छात्रों ने आत्‍महत्‍या कर ली.

TSBIE सप्‍लीमेंट्री एग्‍जाम 2019:
इसी बीच तेलंगाना स्‍टेट बोर्ड ऑफ इंटरमीडिएट एजुकेशन (TSBIE) ने सप्‍लीमेंट्री परीक्षा की तारीख और टाइम टेबल जारी कर दिया है. टाइम टेबल और पूरा शेड्यूल bie.telangana.gov.in पर जारी किया गया है. सप्‍लीमेंट्री परीक्षा में वो छात्र हिस्‍सा ले सकते हैं, तो एक या दो विषय में सफल नहीं हो सके हैं. सप्‍लीमेंट्री परीक्षा मई में आयोजित होगी.

परीक्षा 16 मई 2019 से शुरू होगी. इस दौरान दोनों साल के छात्र परीक्षा देंगे. 27 मई को परीक्षा समाप्‍त हो जाएगी. प्रैक्‍ट‍िक परीक्षा 28 से 31 मई 2019 तक आयोजित होगी.

यह भी पढ़ें: UP Board Results 2019: यूपी बोर्ड रिजल्‍ट जल्‍द, छात्रों को मालूम होनी चाहिए ये 5 बातें

यह भी पढ़ें : UP Board 10th, 12th का रिजल्ट जारी होने में इस वजह से हो रही है देर

ये भी पढ़ें: UP Board Result 2019: यूपी के इन 4 जगहों का रिजल्‍ट तैयार, कभी भी हो सकता है जारी

करियर और जॉब्स से संबंधित खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें   

सभी राज्यों की बोर्ड परीक्षाओं/ प्रतियोगी परीक्षाओं, उनकी तैयारी और जॉब्स/करियर से जुड़े Job Alert, हर खबर के लिए फॉलो करें- https://hindi.news18.com/news/career/

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज