राजस्थान के 258 राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालयों में 2191 नए पदों को मंजूरी

इसमें 1,290 अस्थायी पदों के सृजन को मंजूरी दी गई है.
इसमें 1,290 अस्थायी पदों के सृजन को मंजूरी दी गई है.

एम्बुलेंस चालकों को 500 रुपये एकबारीय प्रोत्साहन राशि के रूप में प्रदान करने की मंजूरी दी है. इससे 1,435 तकनीशियनों तथा 2,806 एम्बुलेंस चालकों को मिलेगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 27, 2020, 10:39 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. राजस्थान सरकार ने 258 राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालयों में योजना मद में 1,290 अस्थायी पदों के सृजन को मंजूरी दी है. सरकारी बयान के अनुसार मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इस आशय के प्रस्ताव को मंजूरी दी है.

प्रधानाचार्य, स्कूल शिक्षा, अध्यापक के  1,290 नए पद
नवसृजित अस्थायी पदों में 258 प्रधानाचार्य, 774 व्याख्याता स्कूल शिक्षा व 258 पद अध्यापक (एल-10) के हैं. जिन नवक्रमोन्नत विद्यालयों में नामांकन शून्य अथवा न्यून है उनमें नामांकन वृद्धि के प्रभावी प्रयास किये जाने होंगे.

845 व नवक्रमोन्नत, 26 पद, 30 नये अशैक्षिणक पद कुल 901 पद
इसी तरह गहलोत ने प्रदेश में नवक्रमोन्नत 65 राजकीय माध्यमिक विद्यालयों में 845 व नवक्रमोन्नत अन्य दो विद्यालयों में 26 पद यानी कुल 871 अस्थाई पदों का सृजन करने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है. वहीं श्री कर्ण नरेन्द्र कृषि विश्वविद्यालय, जोबनेर में 30 नये अशैक्षिणक पदों के सृजन के प्रस्ताव को भी मंजूरी दी.



तकनीशियन तथा एम्बुलेंस चालकों को प्रोत्साहन राशि
एक अन्य फैसले में मुख्यमंत्री गहलोत ने कोरोना वायरस महामारी जैसी विषम परिस्थिति में सेवाएं दे रहे एम्बुलेंस सेवा प्रदाता कंपनी जीवीके-ईएमआरआई के तकनीशियन तथा एम्बुलेंस चालकों को 500 रुपये एकबारीय प्रोत्साहन राशि के रूप में प्रदान करने की मंजूरी दी है.

ये भी पढ़ें-
लॉकडाउन में गई कॉन्ट्रेक्टेड जॉब, लेक्चरर खेतों में कर रहा है मजदूरी
NEET आंसर-की 2020 ntaneet.nic.in पर जारी, इस डायरेक्ट लिंक से करें चेक

इसका लाभ राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (एनएचएम) में इस कंपनी द्वारा संचालित 108, 104 व बेस एम्बुलेंस पर कार्यरत 1,435 तकनीशियनों तथा 2,806 एम्बुलेंस चालकों को मिलेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज