Home /News /career /

BPSC का इंटरव्यू पास कराने के लिए मांगी 30 लाख की रिश्वत

BPSC का इंटरव्यू पास कराने के लिए मांगी 30 लाख की रिश्वत

BPSC के एग्जाम में नंबर बढ़ाने के मांगे थे पैसे.

BPSC के एग्जाम में नंबर बढ़ाने के मांगे थे पैसे.

रामकिशोर सिंह पर आरोप है कि उन्होंने आवेदक के नंबर बढ़ाने के लिए 30 लाख रुपये की रिश्वत मांगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
    बिहार लोक सेवा आयोग (BPSC) में नंबर बढ़ाने के लिए आवेदक से 30 लाख रुपये की रिश्वत मांगने के आरोप का मामला सामने आया है. रिश्वत मांगने का आरोप बिहार लोक सेवा आयोग के सदस्य रामकिशोर सिंह और उनके सहयोगी परमेश्वर राय पर है. रामकिशोर सिंह पर आरोप है कि उन्होंने आवेदक के नंबर बढ़ाने के लिए 30 लाख रुपये की रिश्वत मांगी. रिश्वत मांगने का मामला करीब डेढ़ साल पुराना है.

    मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, रिश्वत लेने का मामला करीब डेढ़ साल पुराना है. रामकिशोर बीपीएससी में बतौर सदस्य काम करते हैं. उन्होंने 58वीं और 59वीं मौखिक परीक्षा कैंडीडेट के नंबर बढ़ाने के लिए पैसे मांगे थे. इस काम में उन्होंने अपने सहयोगी परमेश्वर राय से मदद ली थी.

    कैंडीडेट ने 30 लाख रुपये की रकम की मांग निगरानी ब्यूरो में दर्ज कराई थी. ब्यूरो की ओर से कराई रिकॉर्डिंग के मुताबिक कैंडीडेट और रामकिशोर सिंह के बीच कई राउंड में फोन पर बात भी हुई. बातचीत की कुछ रिकॉर्डिंग को ब्यूरो ने जांच के लिए चंडीगढ़ की सेंट्रल फॉरेंसिक साइंस लैब भेजा था. लैब की रिपोर्ट में भी ये बात स्पष्ट हो चुकी है कि आवाज रामकिशोर सिंह की ही है.

    सेंट्रल फॉरेंसिक साइंस लैब की रिपोर्ट में रिकॉर्डिंग में आवाज साबित होने पर भी रामकिशोर का कहना है वह आवाज़ उनकी नहीं है, उन्हें साजिशन फंसाया जा रहा है. इस माले में शिकायत दर्द होने से तीन दिन पहले ही रामकिशोर ने आयोग की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया. लेकिन इस्तीफा स्वीकार नहीं किया गया है.

    जानें कौन है रिश्वत मांगने वाला रामकिशोर
    बिहार लोक सेवा आयोग के सदस्य होने के अलावा रामकिशोर सिंह 2006-12 के बीच बिहार विधान परिषद के सदस्य रह चुके हैं. उन्हें भाजपा की ओर से विधान परिषद में भेजा गया था. दूसरी बार परिषद में न भेजकर भाजपा का प्रदेश प्रवक्ता बनाया गया था. 2013 में गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना करने के चलते उन्हें निलंबित किया गया था. भाजपा से नाराज होकर वे जदयू में शामिल हुए. जदयू ने भी उन्हें प्रवक्ता बनाया. 2014 में वे छह वर्षों के लिए बिहार लोकसेवा आयोग के सदस्य बने.

    ये भी पढ़ें: 
    Government Jobs 2019: 10वीं पास युवाओं के लिए बंपर वैकेंसी
    इस कंपनी में कर्मचारी खुद तय करते हैं सैलरी, साथी देते हैं रिव्‍यू
    भरपेट खाना नहीं मिलने पर बिस्‍किट खाकर करते थे गुजारा, आज हैं IAS अफसर

    Tags: Bihar News, BPSC exam

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर