लाइव टीवी

14 साल जेल में रहने के बाद भी नहीं मानी हार, डॉक्टर बनकर पेश की मिशाल

News18Hindi
Updated: February 15, 2020, 3:15 PM IST
14 साल जेल में रहने के बाद भी नहीं मानी हार, डॉक्टर बनकर पेश की मिशाल
40 वर्षीय सुभाष ने बताया कि वह अफजलपुरा कलबुर्गी कर्नाटक का रहने वाला है.

सुभाष पाटिल नाम के इस सख्श को पुलिस ने 2002 में हत्या के मामले में गिरफ्तार किया था. तब सुभाष एमबीबीएस थर्ड ईयर की पढ़ाई कर रहे थे. 2006 में कोर्ट ने सुभाष को इस मामले में उम्रकैद की सजा सुनाई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 15, 2020, 3:15 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. एक सख्श 14 साल तक जेल में रहा और जब वह जेल से बाहर आया तो डॉक्टर बनकर जिंदगी के असल लक्ष्य को हासिल किया. 40 वर्षीय सुभाष ने बताया कि वह अफजलपुरा कलबुर्गी कर्नाटक का रहने वाला है. साल 1997 में वह एमबीबीएस थर्ड इयर की पढ़ाई कर रहा था.
इस दौरान हत्या के एक मामले में पुलिस ने सुभाष को गिरफ्तार कर लिया. इसके बाद 2006 में कोर्ट ने सुभाष को उमकैद की सजा सुना दी. साल 2016 में अच्छे व्यवहार के चलते सुभाष को जेल से रिहा कर दिया गया है.

इसके बाद सुभाष ने 2019 में अपनी एमबीबीएस की पढ़ाई पूरी की. इसके बाद सुभाष ने एक साल की जरूरी इंटर्नशिप को भी पूरा किया. इसी महीने की शुरुआतात में सुभाश को एमबीबीएस की डिग्री मिली है.

ये भी पढ़ें- Government Jobs: इंडियन एयरफोर्स में निकली नौकरी, 17 के पहले करें आवेदन

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए करियर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 15, 2020, 3:05 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर