लाइव टीवी

संघर्ष कर रहे लेखकों से अपना होमवर्क करवा रहे है अमेरिकी स्टूडेंट्स

News18Hindi
Updated: September 8, 2019, 1:09 PM IST
संघर्ष कर रहे लेखकों से अपना होमवर्क करवा रहे है अमेरिकी स्टूडेंट्स
क्लाइंट के लिए काम करतीं Mary Mbugua. (image: The New York Times)

इस तरह की इंडस्ट्री एक दशक से ज्यादा लंबे वक्त से वजूद में है. हाल ही के सालों में इसकी मांग और भी ज्यादा बढ़ी है.इस तरह की इंडस्ट्री एक दशक से ज्यादा लंबे वक्त से वजूद में है. हाल ही के सालों में इसकी मांग और भी ज्यादा बढ़ी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 8, 2019, 1:09 PM IST
  • Share this:
स्कूल-कॉलजों में चीटिंग करना या करवाना तो आपने भी सुना होगा. लेकिन अब इसे सिर्फ चीटिंग नहीं, काम की तरह देखा जाने लगा है. ये 'काम' वैश्विक स्तर पर पांव पसार रहा है. अमेरिकन अखबार New York Times में छपी रिपोर्ट के मुताबिक, अमेरिकी स्टूडेंट्स बाहर से होमवर्क करवा रहे हैं. जो कि संघर्ष कर रहे लेखकों को रोज़गार दे रहा है. ऐसा ही एक उदाहरण ईस्ट अफ्रीका के देश केन्या के शहर Nyeri की यूनिवर्सिटी में पढ़ रही स्टूडेंट Mary Mbugua का है.

मैरी मबुगुआ ने अपना खर्चा चलाने के लिए कई छोटे-मोटे काम किए. लेकिन वह उनके ग़ुज़र- बसर के लिए काफी नहीं था. वो रोज़गार की तलाश में थीं. तभी एक साथी ने उन्हें 'Academic Writing' के लिए काम ऑफर किया. अकैडमिक राइटिंग केन्या में फायदे की इंडस्ट्री (lucrative industry) की तरह पनप रही है. ये इंडस्ट्री यूनाइटेड स्टेट, ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया के कॉलेज स्टूडेंट्स के लिए ऑनलाइन स्कूल असाइनमेंट्स करा रही है.



जब मैरी इस काम से रूबरू हुई तो उन्हें ये बेईमानी लगी. उन्होंने कहा कि ये चीटिंग है. लेकिन आर्थिक तंगी से जूझ रही मैरी के पास गुजर-बसर के लिए कमाई का कोई और ऑप्शन नहीं था. यूनाइटेड स्टेट, ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया के कॉलेज स्टूडेंट्स के ऑनलाइन असाइनमेंट्स कराने वाली वेबसाइट्स चल रही हैं. जो कि Ace-MyHomework और EssayShark नाम से वर्किंग हैं.

एक्सपर्टस का कहना है कि इस तरह की इंडस्ट्री एक दशक से ज्यादा लंबे वक्त से वजूद में है. हाल ही के सालों में इसकी मांग और भी ज्यादा बढ़ी है. ऑनलाइन अकैडमिक राइटिंग मुहैया कराने वाली वेबसाइट्स पहले से ज्यादा परिष्कृत और प्रभावशाली हो गई हैं. ये हॉटलाइन कस्टमर सर्विस की तरह काम कर रही हैं. इन वेबसाइट्स के ज़रिए प्रतिवर्ष लाखों निबंधों का ऑर्डर दिया जाता है. ये काम कुछ लेखकों को फुल-टाइम नौकरी जैसी आमदनी करा रहा है.

ये भी पढ़ें-

ICAI CA Application Form 2019: फॉर्म भरने की तारीख बढ़ी
Loading...

इस महीने टीचिंग जॉब के लिए करें अप्लाई, चेक करें सभी अपडेट
Success Story: बिना कोचिंग पहले अटेंप्ट में क्रैक किया IAS एग्जाम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नौकरियां/करियर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 8, 2019, 12:20 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...