लाइव टीवी

देश में पुरुष शिक्षकों के मुकाबले बेहद कम हैं महिला शिक्षक, बिहार की स्‍थिति सबसे खराब


Updated: September 23, 2019, 4:22 PM IST
देश में पुरुष शिक्षकों के मुकाबले बेहद कम हैं महिला शिक्षक, बिहार की स्‍थिति सबसे खराब
देश में पुरुष शिक्षकों के मुकाबले बेहद कम है महिला शिक्षक, बिहार की स्‍थिति सबसे खराब

AISHE की ये रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि देश भर की यूनिवर्सिटी, कॉलेज और शैक्षणिक संस्‍थानों में पुरुषों की अपेक्षा महिला की तुलना काफी कम है. वहीं बिहार में ये आंकड़ा सबसे ज्‍यादा खराब है.

  • Last Updated: September 23, 2019, 4:22 PM IST
  • Share this:
अक्‍सर ऐसा माना जाता है कि टीचिंग प्रोफेशन में लड़कियों की संख्‍या पुरुषों की अपेक्षा ज्‍यादा होती हैं. लड़कियां इस फील्‍ड में ज्‍यादा जाती हैं लेकिन आपको ये जानकारी बहुत हैरानी होगी कि पूरे देश में पुरुषों की अपेक्षा महिला टीचर की संख्‍या बेहद कम है. ये आंकड़े ऑल इंडिया सर्वे ऑफ हॉयर एजुकेशन (All India Survey of Higher Education, AISHE) की रिपोर्ट में सामने आई है.

AISHE की ये रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि देश भर के यूनिवर्सिटी, कॉलेज और शैक्षणिक संस्‍थानों में पुरुषों की अपेक्षा महिला की तुलना काफी कम है. इसके मुताबिक शैक्षणिक संस्‍थानों में कुल 14,16,299 टीचर हैं. इसके तहत कुल 57.8 फीसदी पुरुष अध्‍यापक हैं और 42.2 प्रतिशत  महिला शिक्षक हैं. वहीं रिपोर्ट के अनुसार बिहार में सबसे  ज्‍यादा बुरी स्‍थिति है. इसके अनुसार यहां 78.97  फीसदी पुरुष शिक्षक के मुकाबले में 21.03 फीसदी महिला शिक्षक हैं.

झारखंड है दूसरे नंबर पर

इस लिस्‍ट में बिहार के बाद दूसरे नंबर पर झारखंड है. यहां  69.8 प्रतिशत मेल टीचर के मुकाबले महज 30.2 फीसदी शिक्षक हैं. वहीं उत्‍तर प्रदेश में भी स्‍थिति कुछ बहुत अच्‍छी नहीं है. यहां भी 32.3 फीसदी महिला अध्‍यापक है.

दिव्‍यांग कैटेगिरी में बेहद खराब
सर्वे के अनुसार दिव्‍यांग कैटेगिरी में स्‍थिति और खराब है. इसके मुताबिक 100 दिव्‍यांग पुरुष टीचर की अपेक्षाकृत केवल 37 महिलाएं हैं.

 इनमें है बेहतर स्‍थिति

एक तरफ पूरे देश में जहां महिला शिक्षकों की स्‍थिति बेहद खराब है. वहीं कुछ राज्‍य ऐसे भी हैं, जहां फीमेल टीचर की उपिस्‍थति अच्‍छी है. इनमें केरल, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, नागालैंड, दिल्‍ली और गोवा है.

ये भी पढ़ें: 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चंडीगढ़ (पंजाब) से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 23, 2019, 4:10 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर