• Home
  • »
  • News
  • »
  • career
  • »
  • अखिलेश यादव ने सरकार पर साधा निशाना, ऑनलाइन शिक्षा को बताया अव्यावहारिक

अखिलेश यादव ने सरकार पर साधा निशाना, ऑनलाइन शिक्षा को बताया अव्यावहारिक

समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव

समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव

समाजवादी पार्टी मुखिया अखिलेश यादव ने कहा कि ऑनलाइन एजुकेशन बिना कंप्यूटर, लैपटॉप और स्मार्टफोन के बिना काम नहीं कर सकता है. राज्य में केवल 27 फीसदी बच्चों के पास ही लैपटॉप या स्मार्टफोन है. राज्य में आधे से ज्यादा बच्चों के पास बिजली नहीं है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव (Samajwadi Party Chief Akhilesh Yadav) ने शनिवार को कहा कि कोरोना महामारी (Coronavirus Pandemic) के बीच ऑनलाइन क्लासेज (Online Classes in UP) चलाना अव्याहारिक है. आगे उन्होंने कहा कि जिस तरह से बीजेपी ने बिना सोचे समझे नोटबंदी (Demonetization) और जीएसटी (GST) को लागू किया उसी तरह से ऑनलाइन शिक्षा को भी लागू किया जा रहा है. इसका परिणाम अच्छा नहीं है.

    बताया अव्यावहारिक कदम
    यह अव्यावहारिक कदम है. उन्होंने ये भी कहा ऑनलाइन एजुकेशन बिना कंप्यूटर, लैपटॉप और स्मार्टफोन के बिना काम नहीं कर सकता है. राज्य में केवल 27 फीसदी बच्चों के पास ही लैपटॉप या स्मार्टफोन है. राज्य में आधे से ज्यादा बच्चों के पास बिजली नहीं है. इसके अलावा इंटरनेट कनेक्शन भी नहीं है. साथ ही छात्रों के सामाजिक-आर्थिक स्तर में भी अंतर है. इसलिए ऑनलाइन एजुकेशन आसान नहीं है.

    ये भी पढ़ेंः


    बीजेपी पर साधा निशाना
    उन्होंने कहा कि जब हमारी पार्टी सरकार में थी तो हमनें 18 लाख लैपटॉप बांटे थे. उस वक्त बीजेपी ने मज़ाक उड़ाया था और आज के समय में ये आवश्कता बन चुका है. अखिलेश यादव ने कहा कि बीजेपी संस्कृत और संस्कृति की बात करती है लेकिन असलियत यह है कि सरकार संस्कृत स्कूलों की अनदेखी कर रही है. सरकार उन्हें बंद करने वाली है. छात्रों के ऊपर थोड़ा और ध्यान देने लायक है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज