लाइव टीवी

Alert! गोवा के स्कूलों में मिलेगा पानी पीने का ब्रेक, जानिए क्यों उठाया ये कदम

News18Hindi
Updated: November 28, 2019, 5:28 PM IST
Alert! गोवा के स्कूलों में मिलेगा पानी पीने का ब्रेक, जानिए क्यों उठाया ये कदम
इस कदम का मकसद बच्चों को डिहाइड्रेशन से बचाना है,

इस बारे में राज्य के शिक्षा विभाग के उप निदेशक शैलेश सिनाई जिंगड़े की ओर से माध्यमिक तथा उच्चतर माध्यमिक स्कूलों को परिपत्र जारी किया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 28, 2019, 5:28 PM IST
  • Share this:
गोवा के सभी स्कूलों में अब प्रत्येक छात्र को पढ़ाई के दौरान रोजाना पानी पीने के लिये दो मिनट का अनिवार्य अवकाश दिया जाएगा. एक सरकारी अधिकारी ने यह जानकारी दी. राज्य के शिक्षा विभाग के उप निदेशक शैलेश सिनाई जिंगड़े की ओर से सरकार से वित्तीय सहायता प्राप्त और गैर-सहायता प्राप्त प्राथमिक, माध्यमिक तथा उच्चतर माध्यमिक स्कूलों को परिपत्र जारी किया गया है.

परिपत्र के अनुसार इस तरह के कदम का मकसद पर्याप्त पानी नहीं पीने वाले बच्चों को डिहाइड्रेशन से बचाना है, जो छात्रों के स्वास्थ्य पर हानिकारक प्रभाव डाल सकता है. परिपत्र में कहा गया है, "लिहाजा सभी स्कूलों को दूसरे और छठे पीरियड के बाद पानी पीने के लिये छुट्टी देने के लिये कहा गया है, जिसका संकेत घंटी बजाकर दिया जाएगा." इसके अलावा देश के अन्य राज्यों में स्कूलों में हुए खास बदलाव में मध्य प्रदेश की भी खबर भी चर्चा में है.

मध्य प्रदेश के 13 सरकारी स्कूलों में ऐप से पढ़ाई
मध्य प्रदेश शिक्षा विभाग ने सरकारी स्कूलों में बच्चों को पढ़ाने के लिए एक ऐप शुरू किया है. प्रदेश के दो जिलों के 13 माध्यमिक शालाओं में इस ऐप के जरिये प्रायोगिक तौर पर पढ़ाया भी जाने लगा है.

मध्य प्रदेश के स्कूली शिक्षा मंत्री प्रभुराम चौधरी ने यहां संवाददाताओं को बताया, दक्षिण कोरिया के मॉडल से प्रेरित होकर हमने एक ऐप विकसित किया है. इस ऐप से शिक्षक छात्रों को पढ़ा सकेंगे. इस ऐप से शिक्षक छात्रों से प्रश्न पूछ सकते हैं और छात्र उनका उत्तर शिक्षकों को दे सकते हैं. उन्होंने कहा, इस ऐप को प्रायोगिक तौर पर भोपाल एवं रायसेन जिलों को 13 माध्यमिक शालाओं में लागू भी किया जा चुका है. यदि यह सफल रहा तो हमारा विभाग इसे प्रदेश के अन्य स्कूलों में लागू करेगा. चौधरी ने बताया कि इस ऐप के जरिए शिक्षक प्रश्न पूछकर छात्रों की परीक्षा भी ले सकते हैं. (इनपुट-भाषा)

ये भी पढ़ें-
श‍िक्षकों के ल‍िये बड़ी खबर, दो बार परीक्षा में हुए फेल तो म‍िलेगा र‍िटायरमेंट

Loading...

2021 से इन 11 भाषाओं में दे सकेंगे JEE Main, पढ़ें डिटेल
NEET 2020 के रजिस्ट्रेशन प्रोसेस में होंगे ये बदलाव, चेक करें डिटेल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए करियर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 28, 2019, 5:28 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...