AMU स्टूडेंट्स की मांग, CAA प्रदर्शनों में छात्रों के खिलाफ दर्ज मामलों की समीक्षा हो

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय की वेबसाइट  पर जाने के लिए https://www.amu.ac.in/ पर विजिट करें.
अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर जाने के लिए https://www.amu.ac.in/ पर विजिट करें.

अपर पुलिस महानिदेशक ने छात्रों को आश्वासन दिया है कि वह अगले हफ्ते अलीगढ़ आएंगे और एएमयू प्रशासन तथा छात्रों के साथ बातचीत कर मसले को सुलझाने की कोशिश करेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 25, 2020, 6:16 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) के छात्रों ने पिछले साल दिसंबर में संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के खिलाफ हुए प्रदर्शन के सिलसिले में बड़ी संख्या में छात्रों के खिलाफ दर्ज मामलों की समीक्षा की मांग की है. एएमयू के छात्र नेताओं के एक समूह ने बुधवार को इस सिलसिले में अपर पुलिस महानिदेशक अजय आनंद से मुलाकात की.

पुलिस ने बड़ी संख्या में छात्रों के खिलाफ मामले दर्ज किए 
छात्र नेताओं की तरफ से जारी एक बयान के मुताबिक, पुलिस ने बड़ी संख्या में छात्रों के खिलाफ इस आरोप में मामले दर्ज किए हैं कि पिछले साल 15 दिसंबर को परिसर में सीएए विरोधी प्रदर्शन के दौरान उनकी गाड़ियां विश्वविद्यालय के अंदर खड़ी थीं.

70 लोग घायल हुए थे
उस हिंसा में 60 छात्रों समेत कम से कम 70 लोग घायल हुए थे और छह से ज्यादा पुलिसकर्मियों को भी चोटें आई थीं.



सभी का कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं है
अपर पुलिस महानिदेशक को सौंपे गए ज्ञापन में छात्रों ने कहा है कि जिन छात्रों के खिलाफ मामले दर्ज किए गए हैं उनमें से लगभग सभी का कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं है और उन पर लगाए गए मुकदमों से उनका करियर बर्बाद हो जाएगा. छात्रों ने ज्ञापन में कहा कि दर्ज किए गए मामलों की फिर से समीक्षा की जाए.

ये भी पढ़ें-
Sarkari Naukri: ओडिशा कर्मचारी चयन आयोग में जूनियर स्टेनोग्राफर की वैकेंसी, आज लास्ट डेट
30 लाख स्टूडेंट्स के लिए बड़ी खबर, CBSE बोर्ड की एग्जाम फीस माफ करने वाली याचिका दिल्ली HC ने की स्वीकार

महानिदेशक ने उन्हें आश्वासन दिया
छात्र नेताओं ने कहा कि अपर पुलिस महानिदेशक ने उन्हें आश्वासन दिया है कि वह अगले हफ्ते अलीगढ़ आएंगे और एएमयू प्रशासन तथा छात्रों के साथ बातचीत कर मसले को सुलझाने की कोशिश करेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज