Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    असम पुलिस भर्ती परीक्षा पेपर लीक मामला: मुख्य आरोपी DIG गिरफ्तार, पुलिस हिरासत में भेजा गया

    परीक्षा पत्र लीक मामले में अभी तक 32 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. (सांकेतिक तस्वीर)
    परीक्षा पत्र लीक मामले में अभी तक 32 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. (सांकेतिक तस्वीर)

    डेका को एक अक्टूबर को गिरफ्तार किया गया था. राज्य पुलिस ने उसकी गिरफ्तारी के लिए सूचना देने वाले को एक लाख रुपये का इनाम देने की घोषणा की थी.

    • News18Hindi
    • Last Updated: October 8, 2020, 1:59 PM IST
    • Share this:
    नई दिल्ली. पुलिस भर्ती परीक्षा के पेपर लीक के मुख्य आरोपी असम के सेवानिवृत्त डीआईजी पी के दत्ता को बुधवार को गिरफ्तार कर लिया गया और छह दिनों के लिए पुलिस हिरासत में भेज दिया गया. पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि पेपर लीक होने के बाद से फरार चल रहे दत्ता को भारत-नेपाल सीमा पर काकरभिट्ठा में हिरासत में लिया गया और मंगलवार को असम पुलिस को सौंप दिया गया.

    भारतीय दंड संहिता और आईटी अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत मामला 
    बुधवार सुबह उन्हें गुवाहाटी लाया गया और उनके खिलाफ सीआईडी पुलिस स्टेशन में दर्ज मामले के सिलसिले में गिरफ्तार किया गया. भारतीय दंड संहिता और आईटी अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत उन पर मामला दर्ज किया गया है.

    पुलिस ने सात दिन की हिरासत के लिए अपील
    बाद में उन्हें मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत में पेश किया गया, जहां पुलिस ने सात दिन की हिरासत के लिए अपील की थी. अदालत ने छह दिन का पुलिस रिमांड मंजूर किया और दत्ता को सीआईडी की हिरासत में सौंप दिया गया. पुलिस ने घोटाले के सिलसिले में अब तक 34 लोगों को गिरफ्तार किया है.



    असम पुलिस ने हिरासत में ले लिया
    असम सीआईडी द्वारा जारी ‘लुकआउट सर्कुलर’ (एलओसी) के बाद सुरक्षा बलों ने दत्ता, उनके बेटा और उनके दामाद को हिरासत में लिया. शुरुआत में दत्ता को पश्चिम बंगाल पुलिस को सौंप गया था, लेकिन बाद में असम पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया.

    ये भी पढ़ें-
    JEE एडवांस टॉपर चिराग फालोर ने क्यों चुना IIT की बजाय MIT, जानिए उनका जवाब
    SSC ने बिहार विधानसभा चुनाव की वजह से बदला SSC JE, Steno, CGL परीक्षाओं का शेड्यूल, करें चेक

    अभी तक 32 लोग गिरफ्तार
    परीक्षा पत्र लीक मामले में अभी तक 32 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. दत्ता एक अन्य आरोपी, भाजपा के निष्कासित नेता दिबान डेका के साथ फरार हो गया था. डेका को एक अक्टूबर को गिरफ्तार किया गया था. राज्य पुलिस ने उसकी गिरफ्तारी के लिए सूचना देने वाले को एक लाख रुपये का इनाम देने की घोषणा की थी.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज