• Home
  • »
  • News
  • »
  • career
  • »
  • B.Ed कोर्स को चार साल का करने के फैसले में अहम बदलाव, पढ़ें डिटेल 

B.Ed कोर्स को चार साल का करने के फैसले में अहम बदलाव, पढ़ें डिटेल 

उम्मीदवार यूपीएसईई 2020 के लिए आधिकारिक वेबसाइट upsee.nic.in पर जाकर अपना पंजीकरण करा सकते हैं.

उम्मीदवार यूपीएसईई 2020 के लिए आधिकारिक वेबसाइट upsee.nic.in पर जाकर अपना पंजीकरण करा सकते हैं.

2014 से पहले बीएड पाठ्यक्रम एक साल का था. राष्‍ट्रीय अध्‍यापक शिक्षा परिषद (NCTE) ने इसे दो साल का किया था.

  • Share this:

    B.Ed Course: देश में स्‍कूली शिक्षा की गुणवत्‍ता में सुधार के उद्देश्‍य से दो वर्षीय बीएड पाठ्यक्रम को बंद करने की बात कही गई थी. इसके बदले दो की जगह चार साल के बीएड प्रोग्राम को शुरू करने के लिए कहा गया था. इस फैसले से ग्रेजुएट्स असंतुष्ट थे. राष्‍ट्रीय शिक्षा नीति 2019 के प्रारूप के मुताबिक अब दो वर्षीय पाठ्यक्रम को बंद न किए जाने का फैसला लिया गया है.


    कब लिया गया था चार वर्षीय बीएड कार्यक्रम पर फैसला
    फरवरी 2019 में तत्‍कालीन केन्‍द्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने अगले साल से यूनिफाइड चार वर्षीय बीएड कार्यक्रम शुरू करने का ऐलान किया था. ये ऐलान दिल्‍ली में केन्‍द्रीय विद्यालय समिति और नवोदय विद्यालय समिति के प्रधानाचार्यों के संयुक्‍त सम्‍मेलन को संबोधित करते हुए किया गया था. चार वर्षीय बीएड कार्यक्रम की योजना तैयार करने की वजह थी, ऐसे ऐसे शिक्षकों की जरूरत है जो मन से शिक्षक हों, न कि कुछ न कर पाने के चलते शिक्षक बने हों.

    नए फैसले के मुताबिक, दो वर्षों का बीएड पाठ्यक्रम जारी रहेगा. दो वर्षीय बीएड पाठ्यक्रम सभी संस्‍थान 2030 तक जारी रखेंगे. बता दें कि 2014 से पहले बीएड पाठ्यक्रम एक साल का था. राष्‍ट्रीय अध्‍यापक शिक्षा परिषद (NCTE) ने इसे दो साल का किया था.

    इससे पहले जून 2019 में उत्‍तर प्रदेश में बीएड कोर्स से जुड़ा अहम फैसला लिया गया था. जिसमें कहा गया था कि B.Ed डिग्री धारक भी प्राइमरी टीचर बन सकेंगे. दरअसल कैबिनेट बैठक में उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा (अध्यापक) सेवा नियमावली 1981 में संशोधन को मंजूरी मिली थी. जिसके बाद प्रदेश के जूनियर बेसिक स्कूलों (कक्षा 1 से 5) में बीएड डिग्री धारकों भी शिक्षक बनने की इजाजत दी गई थी. हालांकि, ऐसे टीचर्स को नियुक्ति के 2 वर्ष के भीतर प्राथमिक शिक्षा में 6 महीने का ब्रिज कोर्स पूरा करने की बात कही गई थी.

    ये भी पढ़ें-
    RRB Recruitment Group D 2019: 103769 वैकेंसी के लिए एप्लीकेशन स्टेटस जारी
    सैनिक स्कूल सोसाइटी: गर्ल्स स्टूडेंट्स के लिए खुली एप्लीकेशन विंडो, देखें लिंक
    HPCL Recruitment Alert 2019: टेक्निशियन पदों के लिए 72 वैकेंसी, सैलरी 40000

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज