होम /न्यूज /करियर /

Career After 12th Commerce: 12वीं के बाद कॉमर्स में हैं स्टूडेंट्स के लिए बेहतरीन करियर ऑप्शन, जानिए इन कोर्स के बारे में

Career After 12th Commerce: 12वीं के बाद कॉमर्स में हैं स्टूडेंट्स के लिए बेहतरीन करियर ऑप्शन, जानिए इन कोर्स के बारे में

Career Tips: कॉमर्स में हैं स्टूडेंट्स के लिए बेहतरीन करियर ऑप्शन.

Career Tips: कॉमर्स में हैं स्टूडेंट्स के लिए बेहतरीन करियर ऑप्शन.

Courses After 12th Commerce: कुछ कोर्स के लिए राष्ट्रीय स्तर पर निर्धारित प्रवेश परीक्षा देनी होती हैं .जिन्हें क्रैक करने के बाद देश के अच्छे संस्थान में दाखिला मिल सकता है.जो कैंडिडेट नौकरी से ज्यादा बिज़नेस पर भरोसा रखते हैं उनके लिए भी इस फील्ड में कई रास्ते खुल सकते हैं.

अधिक पढ़ें ...

    हाइलाइट्स

    जो कैंडिडेट नौकरी से ज्यादा बिज़नेस पर भरोसा रखते हैं उनके लिए भी इस फील्ड में कई रास्ते खुल सकते हैं.
    इनमें से कुछ कोर्स के लिए राष्ट्रीय स्तर पर निर्धारित प्रवेश परीक्षा देनी होती है.
    जिन्हें क्रैक करने के बाद देश के अच्छे संस्थान में दाखिला मिल सकता है .

    नई दिल्ली: Career After 12th Commerce: कॉमर्स स्ट्रीम से 12वीं पास स्टूडेंट्स को आगे की पढ़ाई के चयन के लिए चिंता करने की जरुरत नहीं है. उन्हें ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन स्तर पर कोर्स के कई अच्छे विकल्प मिल जाएंगे. कॉमर्स फील्ड में कुछ ऐसे कोर्स हैं, जिन्हें पूरा करने के बाद कैंडिडेट करियर के लिहाज से भरपूर पैसा और प्रतिष्ठा कमा सकते हैं. इन कोर्स को करने का बाद नौकरी करने के लिए विदेश में सेटल होने का मौका भी मिल सकता है.

    कंपनी सचिव (सीएस)
    कॉमर्स स्ट्रीम के स्टूडेंट 12वीं के बाद कंपनी सेक्रेटरी की पढ़ाई कर सकते हैं. जो कैंडिडेट 12वीं में 50 प्रतिशत अंकों के साथ पास हुए हैं वे सीएस का कोर्स कर सकते हैं. यह कोर्स करने के बाद कैंडिडेट किसी बड़ी कंपनी, फर्म या किसी अन्य संस्था में नौकरी करने योग्य हो जाते हैं. यह नौकरी हाई सैलरी वाले पेशे में से एक मानी गयी है. सिर्फ यही नही कैंडिडेट इस पेशे को नौकरी ही नहीं बल्कि बिज़नेस के तौर पर भी अपना सकते हैं.

    बीकॉम इन अकाउंटिंग एंड कॉमर्स
    कॉमर्स स्टूडेंट 12वीं के बाद अकाउंटेंट की पढ़ाई कर सकते हैं. इस कोर्स को ग्रेजुएशन ही नही बल्कि पोस्ट ग्रेजुएशन स्तर भी कर सकते हैं. देश के कई टॉप इंस्टिट्यूट इस कोर्स को अपने पाठ्यक्रम में शामिल कर चुके हैं. कोर्स की समय सीमा लगभग 3 साल होती है . मास्टर करने के लिए कोर्स की समय सीमा 2 साल है. इस क्षेत्र की नौकरी में अच्छे स्तर पर प्रमोशंस भी जल्दी मिलते हैं.

    बीबीए एलएलबी
    12वीं में जिन स्टूडेंट्स का कॉमर्स स्ट्रीम रहा है वे बीबीए एलएलबी यानि बैचलर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन और बैचलर ऑफ लेजिस्लेटिव लॉ ऑनर्स की पढ़ाई भी कर सकते हैं. इस कोर्स में प्रवेश लेने के लिए कैंडिडेट के इंटरमीडिएट में 50 प्रतिशत अंक होने चाहिए. प्रवेश लेने के लिए राष्ट्रीय स्तर की प्रवेश परीक्षा CLAT आयोजित की जाती है. इस परीक्षा को पास करने के बाद अच्छी मेरिट के आधार पर देश के टॉप संस्थान में एडमिशन मिल सकता है.

    बीबीए / बीएमएस
    कॉमर्स स्ट्रीम में बैचलर ऑफ बिज़नेस एडमिनिस्ट्रेशन यानि बीबीए और बैचलर ऑफ मैनेजमैंट स्ट्डीज़ यानि बीएमएस मास्टर्स के लिए महत्वपूर्ण कोर्स हैं. जिन कैंडिडेट्स ने कॉमर्स स्ट्रीम से 50 प्रतिशत नंबर के साथ 12वीं पास किया है वे इस कोर्स को करने के लिए योग्य प्रतिभागी माने जाएंगे. वैसे किसी भी स्ट्रीम से सम्बंधित कैंडिडेट इस कोर्स का हिस्सा बन सकते हैं. लेकिन जिन्होंने कॉमर्स से पढ़ाई की है उन्हें वरीयता मिलती है. इस कोर्स के बाद अच्छी सैलरी के साथ नौकरी की शुरुआत की जा सकती है. इन कोर्सेज के कॉमर्स स्ट्रीम के कुछ ऐसे डिप्लोमा कोर्स भी कर सकते हैं जो करियर को नयी दिशा दे सकते हैं.

    डिप्लोमा इन मैनेजमेंट कोर्स
    यह एक वर्षीय डिप्लोमा कोर्स है. जिसे कॉमर्स से 12वीं पास कैंडिडेट कर सकते हैं. इसको करने के बाद बिज़नेस फील्ड में विभिन्न पदों पर अच्छी सैलरी पैकेज पर काम कर सकते हैं. इसका खर्च बैचलर कोर्स के मुकाबले काफी कम होता है.

    डिप्लोमा इन टैली आरपी
    कॉमर्स फील्ड के लिए टैली चर्चित और पुराना कोर्स है.हालाँकि इसे अन्य स्ट्रीम के लोग भी कर सकते हैं. अकाउंट या फाइनेंस संबंधित फील्ड में जॉब करने के लिए टैली कोर्स कर चुके योग्य प्रतिभागियों की जरुरत लगभग हर जगह होती है .

    बीकॉम इन कंप्यूटर एप्लीकेशन
    बीकॉम इन कंप्यूटर एप्लीकेशन का कोर्स कॉमर्स स्ट्रीम के कैंडिडेट कर सकते हैं. इसके लिए बारहवीं में 50 प्रतिशत नंबर होने चाहिए. इसमें आर्थिक जानकारी के अतिरिक्त वित्तीय लेनदेन संबधी पढ़ाई कराई जाती है .

    ई-कॉमर्स में डिप्लोमा
    यह कॉमर्स स्टूडेंट्स के लिए एकदम नयी फील्ड है .इस कोर्स को बारहवीं पास स्टूडेंट्स आसानी से कर सकते हैं. इसमें ई कॉमर्स की ऑनलाइन और ऑफलाइन बिक्री के बारे में उसकी विशेषताओं के बारे में पढ़ाई कराई जाती है.

    डिप्लोमा इन बैंकिंग
    बैंकिंग का सेक्टर काफी पुराना है.कॉमर्स के स्टूडेंट्स बैंकिग का कोर्स देश की टॉप यूनिवर्सिटीज से कर सकते हैं. इसमें बैंकिंग सेक्टर के फाइनेंस सम्बंधित सभी जानकारियां जैसे, डेबिट क्रेडिट, विदेशी व्यापार, विदेही मुद्रा के बारे में पढ़ाया जाता है.

    डिप्लोमा इन रिटेल मैनजमेंट
    यह डिप्लोमा कोर्स की मांग कैंडिडेट के बीच काफी है.  इसमें डिपार्टमेंटल स्टोर मॉल एजेंसी या फ्रेंचाईजी के बारे में बताया जाता है. इसे बारहवीं पास स्टूडेंट्स आसानी से कर सकते हैं.

    Tags: Career, Career Guidance

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर