राजस्थान में पैरेंट्स को बड़ी राहत, सरकार ने की फीस में 40 फीसदी की कटौती

छात्रों के फीस में 40 प्रतिशत तक कटौती
छात्रों के फीस में 40 प्रतिशत तक कटौती

राजस्थान सरकार ने शिक्षा विभाग ने स्कूलों को 2 नवंबर से खोलने का सुझाव भी दिया है. इसके साथ ही मुख्यमंत्री कार्यालय को भी एसओपी दिशा निर्देशों के साथ ही एक रिपोर्ट सौंपी गई है. हालांकि, स्कूलों को खोलने का निर्देश 9वीं से 12वीं कक्षा के लिए दिया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 29, 2020, 3:42 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. सीबीएसई (CBSE) से संबद्ध निजी स्कूलों को राजस्थान सरकार (Rajasthan Government) को एक बड़ी राहत दी है. सरकार ने 9वीं से 12वीं कक्षा के लिए ट्यूशन फी 30 फीसदी की कटौती करने का निर्देश दिया है. वहीं राज्य बोर्ड से संबद्ध स्कूलों में भी 9वीं से 12वीं कक्षाओं के लिए कोर्स को 40 फीसदी तक कम कर दिया गया है. फीस की कमी करने के पीछे सरकार का कहना है कि चूंकि सीबीएसई ने 30 फीसदी तक सिलेबस कम कर दिया है इसलिए राजस्थान सरकार ने ट्यूशन फीस  (Tuition Fee) को कम कर दिया है. वहीं राजस्थान बोर्ड ने सिलेबस को 40 फीसदी कम कर दिया है इसलिए उन्हें भी फीस को 40 फीसदी तक कम करना चाहिए. इस संबंध में शिक्षा विभाग ने बुधवार को यह आदेश जारी किया.

इसके अलावा राजस्थान सरकार ने शिक्षा विभाग ने स्कूलों को 2 नवंबर से खोलने का सुझाव भी दिया है. इसके साथ ही मुख्यमंत्री कार्यालय को भी एसओपी दिशा निर्देशों के साथ ही एक रिपोर्ट सौंपी गई है. हालांकि, स्कूलों को खोलने का निर्देश 9वीं से 12वीं कक्षा के लिए दिया गया है. पहली से आठवीं के लिए कोई निर्देश जारी नहीं किया गया है.

ये भी पढ़ेंः
यूपी सरकार उठाएगी नीट टॉपर आकांक्षा सिंह के पढ़ाई का खर्च, सरकार का फैसला
UPSC Civil Services Exam: यूपीएससी ने जारी किया मुख्य परीक्षा का फॉर्म, upsconline.nic.in पर करें चेक



स्कूलों को खुलने पर फीस से संबंधित फैसला लिया जाएगा. चूंकि पिछले आठ महीनों से स्कूल कॉलेज बंद हैं इसलिए फीस को लेकर समिति का गठन किया गया था. राजस्थान में पैरेंट्स भी नो स्कूल, नो फी की मांग कर रहे थे. इसी के बाद राज्य सरकार ने समिति का गठन किया गया था. इसी के बाद के फैसला लिया गया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज