Bihar Board Exam 2019: अच्छे नंबर लाने हैं तो जान लें कॉपी लिखने की स्ट्रैटिजी

. इस बार परीक्षा में कुल 13,15,371 परीक्षार्थी शामिल हो रहे हैं. एग्जाम के लिए राज्य के अलग-अलग जिलों में कुल 1339 परीक्षा केन्द्र हैं.

News18Hindi
Updated: February 6, 2019, 9:09 AM IST
Bihar Board Exam 2019: अच्छे नंबर लाने हैं तो जान लें कॉपी लिखने की स्ट्रैटिजी
सांकेतिक तस्वीर
News18Hindi
Updated: February 6, 2019, 9:09 AM IST
Bihar Board Exam 2019: बिहार बोर्ड के 12वीं के एग्जाम आज से शुरू हो गए. बिहार स्कूल एग्जामिनेशन बोर्ड (BSEB) की तरफ से मैट्रिक (10वीं) और इंटरमीडिएट (12वीं) परीक्षा की तैयारी पूरी कर ली गई है. एग्जाम दो शिफ्ट में होंगे. पहली शिफ्ट 9:30 से 12:45 तक होगी और दूसरी शिफ्ट में 1:45 से 5 बजे तक एग्जाम होगा.

बोर्ड ने नकल पर नकेल कसने के लिए खास प्रबंध का दावा, परीक्षा कदाचारमुक्त कराने की बात की है. इस बार परीक्षा में कुल 13,15,371 परीक्षार्थी शामिल हो रहे हैं. एग्जाम के लिए राज्य के अलग-अलग जिलों में कुल 1339 परीक्षा केन्द्र हैं. इस सिलसिले में बनाए गए कंट्रोल रूम 5 फरवरी को सुबह 6 बजे से शुरु होकर परीक्षा समाप्त होने की तिथि यानी 16 फरवरी तक 24 घंटे कार्यरत रहेगा.

Kumbh 2019: कुम्भ का वो बाबा जिसने 50 सालों से अपना हाथ नीचे नहीं किया!



बोर्ड ने परीक्षा भवन में परीक्षार्थियों के जूता-मोजा पहनकर आने से लेकर इल्केट्रॉनिक डिवाइस को लाने तक पर पांबदी लगा दी है. परीक्षा के दौरान कोई प्रश्न-पत्र वायरल की अफवाह न फैले इसके लिए बोर्ड चौकसी बरत रहा है.

10वीं (हाई स्कूल) के एग्जाम 21 फरवरी से शुरू हैं. बोर्ड ने इसके साथ मॉडल क्वेश्चन पेपर भी रिलीज किया है. इसे छात्र biharboardonline.bihar.gov.in से डाउनलोड कर सकते हैं. हार स्कूल एग्जामिनेशन बोर्ड फरवरी/मार्च के बीच बोर्ड एग्जाम आयोजित करता है. सप्लीमेंटरी स्कूल एग्जामिनेशन अगस्त/सितंबर में राज्य सरकार के कोर्स के आधार पर आयोजित होता है.

जानिए क्यों नहीं पीना चाहिए खड़े होकर पानी?

12वीं (इंटरमीडिएट) एग्जाम डेटशीट
Loading...

फरवरी 6: Biology, RB Hindi (Vocational Course), Philosophy (Arts), Entrepreneurship (Commerce)
फरवरी 7: Language Subjects (Arts), Computer Science (all streams), Multi Media (all streams), Foundation Course (Vocational Course)
फरवरी 8: Physics, Yoga/ Physical Education (Arts), History (Arts), English (Vocational Course)
फरवरी 9: NRB & MB (Arts), Accountancy (Commerce), Vocational Trade I
फरवरी 11: Chemistry, Political Science (Arts), Vocational Trade II
फरवरी 12: Agriculture, Music (Arts), Business Studies (Commerce), Geography (Arts)
फरवरी 13: Language Subjects (except Arts), Psychology (Arts), Vocational Trade III
फरवरी 14: NRB & MB (except Arts), Sociology (Arts), Related Subjects (Vocational Course)
फरवरी 15: Mathematics (Science, Arts), Economics (Arts)
फरवरी 16: Home Science (Arts), Economics (Commerce)

घर की बासी रोटी, कई बीमारियों का कारगर इलाज

परीक्षा के समय छात्र अपना आत्म विश्वास खोते हैं जिस वजह से वे सब आते हुए भी परीक्षा में अच्छा नहीं कर पाते. इन टिप्स पर ध्यान दें. 

सबसे पहले पेपर पूरा पढ़ें: शुरुआत में रीडिंग के लिए मिलने वाले 15 मिनट में पेपर को अच्छी तरह पढ़ें. उत्तर लिखने की स्ट्रैटजी तैयार कर लें, कौन-सा जवाब पहले लिखेंगे, कितने शब्दों में लिखेंगे, किस सवाल को कितने बजे तक निपटा लेंगे इन सब बातों का ध्यान रखें.

ऐसे लिखें कॉपी: साफ-साफ और खुला-खुला लिखें. कॉपी में कटिंग न करें. एक पार्ट या जवाब लिखने के बाद एक लाइन जरूर छोड़ें. इससे कॉपी साफ लगेगी और एग्जामिनर को साफ-साफ नजर आएगा कि यह पार्ट खत्म हो गया है.

बेहद ज़रूरी बातें:

1 शुरू से अच्छी स्पीड से लिखें. शुरुआत में सजाकर लिखने के चक्कर में ज्यादा वक्त न लगाएं. वर्ड लिमिट का ध्यान रखें.

2 तय लिमिट से कम या ज्यादा में न लिखें. लिखने के बाद प्रमुख पॉइंट्स को अंडरलाइन जरूर करें.

3 जहां भी मुमकिन हो, पैराग्राफ की बजाय बुलेट्स बनाकर पॉइंट्स में जवाब लिखें. आमतौर पर पैराग्राफ में टीचर अंदर नहीं घुसते.

4 क्वेश्चन पेपर के जवाब सीक्वेंस में देने के चक्कर में न पड़ें. जो जवाब सबसे अच्छे आते हों, उन्हें सबसे पहले करें. इस तरह हासिल आत्मविश्वास से आप बाद में मुश्किल सवाल भी हल कर पाएंगे.

अलग-अलग नंबर के सवालों की वर्ड लिमिट: 1 नंबर के सवालों के लिए एक शब्द या एक वॉक्य काफी है. पॉलिटिकल साइंस में एक नंबर के सवाल के जवाब में पूरा वॉक्य लिखना होता है तो साइकॉलजी में एक शब्द के जवाब ही काफी है.

दो मार्क्स के सवालों में दो पॉइंट लिखना काफी है. दो और तीन नंबर के जवाब टु द पॉइंट होने चाहिए. उनमें बहुत ज्यादा लिखने की जरूरत नहीं होती. लेकिन 4 से 6 नंबर के सवालों में काफी लिखना होता है. अगर शब्द सीमा नहीं होती तो जवाब 200 से 300 शब्दों के बीच होना चाहिए.

एग्जाम के बीच में नींद भी सही लें: अमेरिका के बायलर विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने कुछ छात्रों पर शोध किया था. इसमें उन्‍होंने पाया कि ऐसे बच्‍चों ने ज्‍यादा बेहतर परफॉर्म किया, जिन्‍होंने अपनी आठ घंटे की नींद पूरी की थी. बायलर विश्वविद्यालय के माइकल स्कुलिन कहते हैं, ‘अच्छी नींद लेने से परीक्षा में किसी प्रकार के नुकसान की बजाए मदद मिली. यह छात्रों की उस विचारधारा के एकदम विपरीत है कि उन्हें या तो पढ़ाई कुर्बान करनी पड़ेगी या अपनी नींद.’

नॉर्थ-ईस्ट राज्यों के विरोध के बावजूद BJP को क्यों चाहिए सिटीजनशिप बिल ?
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर