लाइव टीवी

फेल हुए स्टूडेंट्स को बिहार बोर्ड दे रही है एक और मौका, इस फॉर्म को भरने के बाद नहीं होगा साल बर्बाद

News18Hindi
Updated: April 11, 2019, 10:29 AM IST
फेल हुए स्टूडेंट्स को बिहार बोर्ड दे रही है एक और मौका, इस फॉर्म को भरने के बाद नहीं होगा साल बर्बाद
बिहार विद्यालय परीक्षा समिति

मैट्रिक के वो छात्र जो इस बार की परीक्षा में सफल नहीं हो सके हैं या फिर किसी कारण से परीक्षा नहीं दे पाए थे उनके लिए बिहार बोर्ड ने कंपार्टमेंटल सह विशेष परीक्षा कराने का फैसला लिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 11, 2019, 10:29 AM IST
  • Share this:
मैट्रिक के वो छात्र जो इस बार की परीक्षा में सफल नहीं हो सके हैं या फिर किसी कारण से परीक्षा नहीं दे पाए थे उनके लिए बिहार बोर्ड ने कंपार्टमेंटल सह विशेष परीक्षा कराने का फैसला लिया है. इस परीक्षा के लिए ऑनलाइन आवेदन गुरुवार से भरे जा रहे हैं. 11 अप्रैल से 16 अप्रैल के बीच ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता है.

कंपार्टमेंटल परीक्षा फॉर्म भरने के लिए उम्‍मीदवारों को बिहार स्‍कूल एग्‍जामिनेशन बोर्ड की अधिकारिक वेबसाइट www.biharboard.online पर जाना होगा. दरअसल, फॉर्म भरने के लिए छात्रों को खुद फॉर्म डाउनलोड करने की जरूरत नहीं है. यह फॉर्म उन्‍हें स्‍कूल द्वारा प्राप्‍त हो जाएगा.

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के मुताबिक बोर्ड की ओर से मैट्रिक की कंपार्टमेंटल परीक्षा मई में आयोजित हो सकती है. इस परीक्षा का परिणाम जून महीने में निकाला जाएगा. फॉर्म शिक्षण संस्थानों के प्रधान के माध्यम से भरा जाएगा. ऐसे छात्र जिन्होंने मैट्रिक की परीक्षा का फॉर्म तो भरा था लेकिन स्कूल के प्रधान की लापरवाही के कारण उनका फॉर्म ऑनलाइन नहीं हो सका और छात्र परीक्षा में शामिल नहीं हो सके, ऐसे छात्र बोर्ड की विशेष परीक्षा में शामिल हो सकते हैं.

इसे भी पढ़ें :- Bihar Board 10th Result 2019: जानिये कब से भरे जाएंगे कंपार्टमेंटल परीक्षा फॉर्म, क्‍या होगी फीस

कौन से छात्र परीक्षा में होंगे शामिल
अधिकतम दो विषयों में फेल होने वाले परीक्षार्थी ही कंपार्टमेंटल परीक्षा दे सकेंगे. वहीं जो परीक्षार्थी मैट्रिक वार्षिक परीक्षा में किसी कारण से शामिल नहीं हो पाए है वो भी इस पीरक्षा में शामिल हो सकेंगे.

कंपार्टमेंटल परीक्षा शुल्‍कछात्रों को हर विषय के लिए अलग शुल्‍क देना होगा. यानी छात्र जितने पेपर के लिए कंपार्टमेंटल परीक्षा फॉर्म भर रहा है, उन सभी के लिए अलग-अलग फीस भरी जाएगी. सभी विषयों की फीस अलग-अलग होगी.

स्‍क्रूटनी फॉर्म
अगर छात्र को लगता है कि पेपर जांच में कोई गड़बड़ी हुई है तो वह अपना पेपर स्‍क्रूटनी के लिए दे सकता है. स्‍क्रूटनी का फॉर्म भरने की प्रक्रिया 9 से 18 अप्रैल तक चलेगी. स्‍क्रूटनी के लिए प्रत्‍येक पेपर के लिए 70 रुपये देने होंगे.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 11, 2019, 10:26 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर