बिहार के DG ने दिया IAS एग्‍जाम में सफल होने का सक्‍सेस मंत्र, इन 3 बातों का रखें ध्‍यान

IAS Preparation TIPS: सिविल सेवा परीक्षा को क्रैक करना कोई असंभव काम नहीं है कोई भी आसानी से इसे क्रैक कर सकता है, बस परीक्षार्थी के भीतर समर्पण, धैर्य और व्यक्तिगत अनुशासन होना चाहिए

News18Hindi
Updated: August 29, 2019, 2:36 PM IST
बिहार के DG ने दिया IAS एग्‍जाम में सफल होने का सक्‍सेस मंत्र, इन 3 बातों का रखें ध्‍यान
IAS Preparation TIPS: सिविल सेवा परीक्षा को क्रैक करना कोई असंभव काम नहीं है कोई भी आसानी से इसे क्रैक कर सकता है, बस परीक्षार्थी के भीतर समर्पण, धैर्य और व्यक्तिगत अनुशासन होना चाहिए
News18Hindi
Updated: August 29, 2019, 2:36 PM IST
IAS Preparation TIPS: यूपीएससी ( UPSC) की ओर से आयोजित होने वाली सिविल सेवा परीक्षा (Civil Services examination) सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक मानी जाती हैं. हर साल लाखों की परीक्षा में शामिल होने वाले अभ्‍यर्थियों में से कुछ चुनिंदा लोगों को ही इसमें सफलता मिलती है. लेकिन ये भी सही है कि अगर कुछ बातों का ठीक से ध्‍यान रखा जाए तो इस एग्‍जाम को क्रैक करना उतना भी मुश्‍किल नहीं है. ये कहना है बिहार के डीजी (DG ) आलोक राज का. उन्‍होंने अलीगढ़ मुस्‍ल‍िम यूनिवर्सिटी (एएमयू) में डायनेमिक-30 के लिए छात्रवृत्ति परीक्षा के मुख्य समारोह के दौरान कहा कि अगर छात्र धैर्य और लगन रखें तो निश्‍चित तौर पर वे इस परीक्षा में सफल हो पाएंगे.

आलोक राज ने कहा क‍ि संघ लोक सेवा आयोग की स‍िव‍िल सेवा परीक्षा को लेकर एक धारणा बनी हुई है. वह धारणा यह है क‍ि यह दुनिया सबसे कठ‍िनतम परीक्षाओं में एक है. लेकिन इसकी तैयारी करने वाले उम्‍मीदवारों को इससे प्रभावित नहीं होना चाहिए. क्‍योंकि इस परीक्षा को क्रैक करना असंभव नहीं है.

सफलता का मंत्र:
उन्‍होंने कहा कि‍ बस इसके ल‍िये छात्रों को तीन बातें ध्‍यान रखने की जरूरत है. पहला है धैर्य, दूसरा समर्पण और तीसरा अनुशासन. इन तीनों बातों का अनुसरण करते हैं तो आपको यूपीएससी की स‍िव‍िल सेवा परीक्षा क्रैक करने से कोई नहीं रोक सकता.

आलोक राज ने कहा क‍ि इसके अलावा छात्रों को टाइम मैनेजमेंट और बदलते परीक्षा पैटर्न के प्रति भी जागरुक रहने की जरूरत है. क्‍योंकि समय-समय पर इसमें बदलाव होते रहते हैं. उन्होंने एएमयू के पूर्व छात्र जावेद उस्मानी, एक रिटायर्ड आईएएस अधिकारी का भी उल्‍लेख किया, जिन्होंने 1978 में सिविल सेवा परीक्षा में टॉप किया था. उन्‍होंने भी इन सभी बातों का ध्‍यान रखकर परीक्षा में सफलता हासिल की है.

अपने अनुभव को छात्रों के साथ साझा करते हुए आलोक राज ने कहा क‍ि साल 1988 में, अलीगढ़ मुस्‍ल‍िम यूनिवर्सिटी के एक और छात्र मनोज यादव ने उनके साथ यूपीएससी परीक्षा पास की थी और आज वह हरियाणा के डीजीपी हैं.

ये भी पढ़ें:
Loading...

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सरकारी नौकरी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 28, 2019, 4:20 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...