ब्रिटेन की यूनिवर्सिटी में 'एडवांसिंग डायबिटीज केयर' कोर्स के लिए 100 भारतीय छात्र रजिस्टर्ड

आंकड़ों के अनुसार भारत में करीब सात करोड़ 70 लाख लोग मधुमेह से पीड़ित हैं.
आंकड़ों के अनुसार भारत में करीब सात करोड़ 70 लाख लोग मधुमेह से पीड़ित हैं.

पाठ्यक्रम के लिए पंजीकरण करा रहे छात्रों का पहला समूह भारत में है और फार्मास्यूटिकल कंपनी लुपिन फार्मास्यूटिकल्स उन्हें प्रायोजित करेगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 4, 2020, 11:30 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. करीब 100 भारतीय छात्रों ने एक ब्रितानी विश्वविद्यालय के मधुमेह संबंधी नए ऑनलाइन पाठ्यक्रम के लिए पंजीकरण कराया है. इस पाठ्यक्रम में मधुमेह से पीड़ित लोगों की मदद करने और इस बीमारी के संबंध में नए शोध करने पर ध्यान केंद्रित किया गया है.

स्नातकोत्तर डिग्री पाठ्यक्रम की शुरुआत
बर्मिंघम सिटी यूनिवर्सिटी ने ‘यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल्स बर्मिंघम डायबिटीज टीम’ के साथ मिलकर ‘एडवांसिंग डायबिटीज केयर’ में स्नातकोत्तर डिग्री पाठ्यक्रम की शुरुआत की है. पाठ्यक्रम के लिए पंजीकरण करा रहे छात्रों का पहला समूह भारत में है और फार्मास्यूटिकल कंपनी लुपिन फार्मास्यूटिकल्स उन्हें प्रायोजित करेगी.

 सभी आयुवर्ग में इस बीमारी को फैलते देखा
बर्मिंघम में भारत के महावाणिज्यदू डॉ. शशांक विक्रम ने कहा, ‘‘जब में मेडिसिन में स्नातक कर रहा था, तब उस समय भारत में हम जीवनशैली संबंधी बीमारियों की उपश्रेणी में मधुमेह के बारे में पढ़ते थे. अब हमने सभी आयुवर्ग में इस बीमारी को फैलते देखा है, जो विभिन्न सामाजिक पृष्ठभूमियों वाले लोगों को प्रभावित कर रही है.’’



ये भी पढ़ें-
असम में रद्द की गई पुलिस सब-इंस्पेक्टर भर्ती परीक्षा 22 नवंबर को, पढ़ें डिटेल
IBPS PO Exam 2020 3 oct से शुरू, कैंडीडेट्स को करना होगा इन निर्देशों का

इस पाठ्यक्रम में मधुमेह में शोध किया जाएगा
उन्होंने कहा, ‘‘इस पाठ्यक्रम के लिए पंजीकरण करा रहे छात्र चिकित्सक हैं और मैं उन्हें शुभकामनाएं देता हूं.’’ विश्वविद्यालय के आंकड़ों के अनुसार भारत में करीब सात करोड़ 70 लाख लोग मधुमेह से पीड़ित है और इस पाठ्यक्रम को इस बीमारी के संबंध में शोध करने के लिए तैयार किया गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज