झारखंड बोर्ड:
झारखंड बोर्ड राज्य स्तर पर बोर्ड परीक्षाओं का आयोजन करने वाला राज्य शैक्षिक बोर्ड है. झारखंड बोर्ड से कक्षा 10वीं और 12वीं के सभी छात्र राज्य स्तर पर परीक्षाओं के लिए उपस्थित होते हैं. झारखंड राज्य शैक्षिक बोर्ड 15 नवंबर 2000 को अस्तित्व में आया. 26 दिसंबर, 2003 को झारखंड राज्य विधायिका द्वारा इसे अधिनियमित किया गया. इसे झारखंड एकेडमिक काउंसिल एक्ट के नाम से जाना जाता है. दूसरी ओर, झारखंड बोर्ड भी छात्र को सभी शैक्षणिक सामग्री प्रदान करने के लिए जिम्मेदार है. बोर्ड कक्षा 10 वीं और 12 वीं के छात्रों के लिए पाठ्यपुस्तकें और पाठ्यक्रम निर्धारित करता है. नियमित बोर्ड के अलावा, बोर्ड ने दूरस्थ शिक्षा के लिए एक ओपन स्कूल बोर्ड विकसित किया है.
राज्य स्तर पर परीक्षाओं के आयोजन के लिए झारखंड बोर्ड समय सारणी ऑनलाइन जारी करता है. परीक्षाओं के पूरा होने के बाद, छात्र अपने परिणाम का इंतजार कर रहे हैं. झारखंड बोर्ड कक्षा 10 वीं और 12 वीं का रिजल्ट मई के महीने में जारी करता है. कक्षा 10 वीं और 12 वीं बोर्ड परीक्षा परिणाम आगे की उच्च अध्ययन के लिए एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं. परिणाम की जांच करने के लिए ऑनलाइन छात्रों को रोल नंबर और छात्र का नाम या किसी अन्य विवरण को दर्ज करके लॉगिन करना होगा. हर वर्ष जेएसी 10वीं परीक्षा में करीब साढ़े 4 लाख और 12वीं की परीक्षा में करीब 2 लाख विद्यार्थी रजिस्ट्रेशन करवाते हैं. पिछले वर्ष 10वीं कक्षा में 70.77 प्रतिशत स्टूडेंट्स पास हुए थे लड़कों का पास प्रतिशत 72.99, जबकि लड़कियों को पास प्रतिशत 68.67 रहा था. अगर पिछले वर्ष के 12वीं के रिजल्ट की बात करें तो जेएसी 12वीं साइंस में 57 प्रतिशत स्डूटेंट्स पास हुए थे. झारखंड बोर्ड से परीक्षा देने वाले छात्र परीक्षा के नतीजे www.hindinews18.com पर सबसे पहले चेक कर सकते हैं.

बोर्ड रिजल्ट्स 2020

corona virus btn
corona virus btn
Loading