उत्‍तर प्रदेश बोर्ड:
उत्तर प्रदेश मध्यम शिक्षा परिषद को हाई स्कूल और इंटरमीडिएट शिक्षा बोर्ड के रूप में भी जाना जाता है. उत्तर प्रदेश शिक्षा के मामले में राज्य के लिए काम करने वाला एक स्वायत्त संगठन है. यूपी बोर्ड (UP Board) को BHSIEUP भी कहा जाता है. इसकी स्‍थापना साल 1921 में हुई थी. यह सरकारी संस्‍थान है और इसका हेडक्‍वाटर इलाहाबाद के तश्‍कंद मार्ग के सेक्‍टर 32 में स्‍थ‍ित है. बोर्ड की आधिकारिक भाषा हिन्‍दी है.

छात्रों की संख्या के संदर्भ में देखा जाए तो इसे एशिया के सबसे बड़े बोर्ड के रूप में सम्मानित किया गया है. यह संयुक्त प्रांत विधान परिषद (United Provinces Legislative Council) के अधिनियम के तहत स्थापित या गया था. यूपी बोर्ड ने अपनी पहली परीक्षा वर्ष 1923 में आयोजित की थी. यह एक और एकमात्र बोर्ड है, जिसने शुरू से ही परीक्षा की 10 + 2 प्रणाली को अपनाया था. 1923 से पहले, इलाहाबाद विश्वविद्यालय कक्षा 10 और 12 की परीक्षा आयोजित करता था. 
यूपी बोर्ड हाईस्कूल मानक यानी कक्षा 10 के लिए और इंटरमीडिएट यानी कक्षा 12 के लिए भी परीक्षा आयोजित करता है. सैकड़ों निजी और सरकारी स्कूल यूपी बोर्ड से संबद्ध हैं. हर साल, बोर्ड 32,00,000 से अधिक छात्रों के लिए परिणाम घोषित करता है. यूपी बोर्ड से परीक्षा देने वाले छात्र परीक्षा के नतीजे www.hindinews18.com पर सबसे पहले चेक कर सकते हैं.

बोर्ड रिजल्ट्स 2020

corona virus btn
corona virus btn
Loading