CA Exams Cancelled: कोरोना वायरस के चलते रद्द हुए मई-2020 सीए एग्जाम, जानिए अब क्या होगा

CA Exams Cancelled: कोरोना वायरस के चलते रद्द हुए मई-2020 सीए एग्जाम, जानिए अब क्या होगा
कोरोना वायरस का असर देशभर की विभिन्न परीक्षाओं पर भी पड़ा है.

CA Exam : पूर्व निर्धारित मई में होने वाली इस परीक्षा को अब नवंबर 2020 की परीक्षा के साथ जोड़ दिया गया है.

  • Share this:
नई दिल्ली. इंस्टीट्यूट आफ चार्टर्ड अकाउंटेंट आफ इंडिया (Institute of Chartered Accountants of India) यानी आईसीएआई (ICAI) ने मई 2020 के सीए एग्जाम को रद्द कर नवंबर 2020 में होने वाले एग्जाम के साथ जोड़ने का फैसला किया है. आईसीएआई ने एक बयान में कहा, जिन कैंडीडेट ने मई की परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन कराया था, उन्हें शुल्क भुगतान और छूट समेत अन्य सभी लाभ मिलेंगे. बता दें कि मई में होने वाले सीए के एग्जाम (CA Exam) को कोरोना वायरस की वजह से स्थगित करके जुलाई और अगस्त में कराने का फैसला किया गया था. हालांकि अब इसे रद्द करके नवंबर में होने वाली परीक्षा के साथ मिला दिया गया है.

नवंबर की परीक्षा के लिए नया आवेदन
एनडीटीवी की रिपोर्ट के अनुसार,  आईसीएआई (ICAI) के अनुसार, जिन स्टूडेंट्स ने मई 2020 एग्जामिनेशन के लिए रजिस्ट्रेशन कराया था, उनके पास नवंबर 2020 में नया आवेदन करते वक्त अपना ग्रुप और एग्जामिनेशन सेंटर बदलने का विकल्प होगा. नवंबर में होने वाली सीए की परीक्षा 1 तारीख से ही शुरू हो जाएंगी. हालांकि परीक्षा शुरू होने से पहले हालात की समीक्षा की जाएगी.

सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई
बता दें कि आईसीएआई द्वारा सीए एग्जाम (CA Exam) आयोजित करने का मामला सुप्रीम कोर्ट में चल रहा है. आईसीएआई ने 29 जून को हुई सुनवाई में शीर्ष न्यायालय को बताया था कि वो 29 जुलाई से 16 अगस्त तक प्रस्तावित सीए एग्जाम आयोजित करने की संभावनाए तलाश रहा है. इसके लिए संबंधित राज्यों और हितधारकों से बात करने का भरोसा भी तब आईसीएआई ने दिया था.



ये भी पढ़ें-
UPSC इंजीनियरिंग सर्विस & Geo-Scientist 2020 मेन एग्जाम स्थगित, पढ़ें डिटेल
गुजरात सरकार ने कैंसिल किए फाइनल ईयर के सभी एग्जाम


इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने ICAI से कहा था कि छात्रों को ये विकल्प मिलना चाहिए कि वह आखिरी वक़्त में एग्जाम न देने का फैसला ले सकें. ऐसे में उन्हें अगले सेमेस्टर में नवंबर में एग्जाम देने का मौका मिलेगा. लेकिन वह एग्जाम मई का ही माना जाएगा. इस तरह उनका एक सेमेस्टर का नुकसान नहीं होगा.इस मामले में अब 10 जुलाई को अगली सुनवाई होनी है. यही वजह है कि आईसीएआई ने नवंबर में ही मई के एग्जाम कराने का फैसला किया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading