CBSE 10th TOPPER: स्टूडेंट्स के काम की हैं तरू जैन की ये 5 बातें

CBSE 10th result 2019: सीबीएसई ने 10वीं कक्षा के नतीजों में पहली पॉजिशन यानी टॉपर बनीं तरू जैन ने 500 में से 499 अंक हासिल किए हैं.

News18Hindi
Updated: May 8, 2019, 8:39 PM IST
News18Hindi
Updated: May 8, 2019, 8:39 PM IST
CBSE 10th result 2019: सीबीएसई ने 10वीं कक्षा के नतीजों में पहली पॉजिशन यानी टॉपर बनीं तरू जैन ने 500 में से 499 अंक हासिल किए हैं. तरू राजस्थान की एक मात्र स्टूडेंट हैं जिन्होंने 10वीं बोर्ड परीक्षा की मेरिट लिस्ट में जगह बनाई है. तरू जैन से जब पूछा गया कि ऐसा कैसे संभव हुआ? इतनी अच्छी तैयारी कैसे कर पाई? इन सारे सवालों के जवाब में तरू ने जो जवाब दिया वो सच में चौंकाने वाला था. तरू ने अपनी पॉजिशन के पीछे वजह रेगुलर और प्लान स्टडी यानी नियमित और योजनाबद्ध अध्ययन को बताया है. तो क्या ऐसा कर कोई भी स्टूडेंट अच्छे से अच्छे अंक हासिल कर सकता है! जी हां, तरू ने बातचीत में इसके लिए भी पूरा प्लान बताया है.

ये भी पढ़ें- CBSE Class 10 Topper: तरू जैन ने हासिल किए 500 में से 499 अंक



इन पांच बातों का ख्याल रखें तो बेहतरीन होगा रिजल्ट

1. प्लान और रेग्युलर स्टडी : तरू ने बताया कि मैंने हर एक सब्जेक्ट और उसके चैप्टर के लिए पहले से प्लानिंग पहले से कर ली थी. कब कौन सा सब्जेक्ट पढ़ना है. और तय समय पर कोर्स पूरा करना, रिवीजन आदि. रोजाना करीब 3 घंटे पढ़ाई.

2. टाइम मैनेजमेंट: समय का सही प्रबंधन यानी पढ़ाई के समय पढ़ाई और खेल के समय खेलकुद भी. लेकिन देर रात तक सोने या देरी से सुबह उठना बिल्कुल नहीं. हां, छुट्‌टी से पहले की रात को देरी से सोने में कोई हर्ज नहीं.

3. पढ़ाई के साथ इंटरटेनमेंट भी: तरू करती हैं कि सारे दिन पढ़ाई से बोर होने से अच्छा है समय पर पढ़ाई और फिर जमकर मस्ती. यानी टीवी, फैमिली, दोस्तों के साथ समय बितना या खेलना भी जरूरी है.

4. एग्जाम में हैंडराइटिंग/प्रजेंटेशन भी खास: अच्छी हैंडराइटिंग से एग्जाम में अच्छा प्रभाव छोड़ सकते हैं. आपका लिखा अच्छे समझ आता है. साथ ही उत्तर की शुरुआत प्रभावशाली ढंग से होनी चाहिए. उत्तर प्वॉइंट्स और स्पस्ट्स हों तो बेहतर नतीजे मिलते हैं.
Loading...

5. आखिरी लेकिन सबसे महत्वपूर्ण बात डाउट्स क्लियर: स्कूल में टीचर के पढ़ाए सब्जेक्ट में कोई भी डाउट हो उसे जितना जल्दी हो सकते क्लियर करना जरूरी है. चाहे टीचर से, घर के सदस्यों से या ट्यूशन टीचर से इसे क्लियर करने से कॉन्फिडेंस भी बढ़ता है और आगे की स्टडी भी प्रभावित नहीं होती.

बता दें कि परीक्षा परिणाम पिछले साल 2018 (86.70%) की तुलना में इस बार 4.40% बेहतर रहा है. इस बार दसवीं का रिजल्ट 91.10% रहा है. बोर्ड से सभी 10 रीजन में त्रिवंद्रम (99.85%) और चैन्नई (99%) के बाद अजमेर का रिजल्ट (95.89%) तीसरे स्थान पर रहा है. अजमेर रीजन में राजस्थान से एकमात्र जयपुर की तरू जैन पहले स्थान पर रही हैं.

CBSE 10th Result 2019: पहली पॉजिशन पर जयपुर की तरू जैन, यहां देखें- Toppers की लिस्ट
एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...