अपना शहर चुनें

States

UP Board Result 2019: इंटर में अच्छे मार्क्स नहीं आए तो न हों निराश, कर सकते हैं ये काम

सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर

UP Board Result 2019: एजुकेशन एक्सपर्ट और अमीनाबाद इंटर कॉलेज के पूर्व प्रिंसिपल जेपी मिश्रा कहते हैं कि यह बात सही है कि हर किसी के 80 या 90 परसेंट मार्क्स नहीं आ सकते. कुछ मिडीयोकर भी होते हैं.

  • Share this:
UP Board Result 2019: यूपी बोर्ड की 10वीं और 12वीं का रिजल्ट (UP Board Result 2019) 27 अप्रैल (शनिवार) को 12.30 बजे घोषित होगा. लिहाजा सभी छात्र अच्छे मार्क्स और अपने करियर को लेकर भी प्लान कर रहे हैं. लेकिन यह बात भी सच है कि हर किसी के नंबर अच्छे हों कोई जरूरी नहीं. क्योंकि सभी की दिमाग और समझ एक जैसी नहीं होती.

यह बात भी है कि हर किसी में कोई न कोई क़ाबलियत होती जरुर है. लिहाजा अगर आपके नंबर अच्छे नहीं आए तो भी घबराने की जरूरत नहीं है. आपके पास कई आप्शन मौजूद हैं जिससे आप आगे की पढ़ाई भी कर सकते हैं और अपने करियर को भी चुन सकते हैं.

यूपी बोर्ड के 10वीं और 12वीं कक्षा के नतीजे सबसे पहले देखने के लिए यहां क्लिक करें.



एजुकेशन एक्सपर्ट और अमीनाबाद इंटर कॉलेज के पूर्व प्रिंसिपल जेपी मिश्रा कहते हैं यह बात सही है कि हर किसी के 80 या 90 परसेंट मार्क्स नहीं आ सकते. कुछ मेडीयोकर भी होते हैं तो कुछ उनसे भी कमजोर. लेकिन किसी को भी निराश होने की जरुरत नहीं क्योंकि उनके मार्क्स कम है. आज एक अच्छी बात ये है कि बहुत सारे आप्शन उपलब्ध. बस जरुरत है सही जानकारी की.
मिश्रा बताते हैं आज अगर लखनऊ की बात करें तो हाईर स्टडी के कई आप्शन मौजूद हैं. अगर बड़े नामों को छोड़ दिया जाए जहां, मेरिट और लिखित परीक्षा के बाद ही एडमिशन मिलता है तो उसके अलावा भी कई डिग्री कॉलेज हैं जहां से छात्र बी.ए, बीएससी, बीकॉम, बी.फार्म, बीबीए, बीसीए या फैशन डिजाइनिंग का कोर्स कर सकता है. इसके लिए कई निजी कॉलेज लखनऊ या अन्य शहरों में हैं, जहां एडमिशन लिया जा सकता है. लेकिन यहां यह बात जाननी जरुरी है कि छात्र को इसी वक्त अपने करियर के बारे में फैसला लेना होगा. ये नहीं कि अभी डिग्री ले लेते हैं फिर बाद में सोचेंगे. अगर प्लानिंग सही है तो औसत या कमजोर छात्र भी सफल झो सकता है. जरुरत है उसे अपनी क्वालिटी को समझने की और उसी अनुसार अपने आप्शन को चुनने की.

जेपी मिश्रा कहते हैं अगर कोई किसी कारणवश आगे की रेगुलर पढ़ाई नहीं कर पा रहा और उसे नौकरी करनी है तो भी कई रास्ते हैं. वह इग्नू या राजर्षि टंडन ओपन यूनिवर्सिटी से पत्राचार के माध्यम से अपनी आगे की पढ़ाई भी कर सकता है और साथ ही नौकरी भी. आज ओपन यूनिवर्सिटी में सभी कोर्स उपलब्ध हैं जो रेगुलर कॉलेज या यूनिवर्सिटी में पढ़ाये जाते हैं.

उन्होंने बताया कि अगर इंटर के बाद नौकरी ही करनी है तो भी उसके पास आप्शन है. वह कॉल सेंटर या मार्केटिंग की जॉब कर सकता है. जोमेटो और स्वेगी जैसे कई आप्शन है, जहां सिर्फ बाइक की आवश्यकता है. इस तरह वह शुरुआत में महीने का 10 से 15 हजार की कमाई कर सकता है. इसके लिए किसी प्रोफेशनल कोर्स की जरुरत नहीं है. उन्होएँ कहा कि अगर उसके पास ड्राइविंग का कौशल है, लेकिन वह गाड़ी नहीं खरीद सकता तो वह ओला या उबेर से संपर्क कर सकता है. आज वे सिर्फ ड्राइविंग लाइसेंस और पंजीकरण के बाद चलाने के लिए खुद की गाड़ी दे देते हैं.

ये भी पढ़ें:

UP Board Results 2019: जानिए क्या कर रहे हैं पिछले साल के टॉपर आकाश मौर्या

UP Board Result 2019: चुनावी शोरगुल के बीच कल घोषित होंगे परीक्षा परिणाम

UP Board Result 2019: देश के सबसे बड़े हिन्‍दीभाषी प्रदेश में 11 लाख से ज्यादा छात्र हुए थे हिन्‍दी में फेल

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज