Home /News /career /

career guidance apprenticeship india skill based jobs trending jobs in india

Career Guidance: क्या आप अप्रेंटिसशिप करना चाहते हैं? यहां जानें इससे जुड़ी हर जरूरी बात

Career Guidance: अप्रेंटिसशिप के दौरान योग्यता के हिसाब से वेतन दिया जाता है

Career Guidance: अप्रेंटिसशिप के दौरान योग्यता के हिसाब से वेतन दिया जाता है

Career Guidance, Apprenticeship India, Apprenticeship 2022: इन दिनों स्किल बेस्ड जॉब (Skill Based Jobs) का ट्रेंड काफी बढ़ गया है (Trending Jobs In India). इसके लिए स्कूल लेवल से ही सिलेबस में बदलाव भी किए जा रहे हैं. अप्रेंटिसशिप का सामान्य शब्दों में अर्थ ट्रेनिंग (Training) होता है. आमतौर पर अप्रेंटिसशिप 3 महीने से लेकर 4 साल तक की होती है. इस दौरान स्टाइपेंड भी दिया जाता है (Apprenticeship Stipend). आपकी जानकारी के लिए बता दें, अप्रेंटिसशिप पूरी तरह से प्रैक्टिकल वर्क पर आधारित होती है. इसमें कोई क्लासेस नहीं होती हैं और सीधे फैक्ट्री या इंडस्ट्री में जाकर ही काम सिखाया जाता है.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली (Apprenticeship India, Apprenticeship 2022). किसी भी क्षेत्र में महारत हासिल करने के लिए थ्योरी के साथ ही प्रैक्टिकल नॉलेज होना भी बहुत जरूरी है. नई शिक्षा नीति 2020 (New Education Policy 2020) में स्किल बेस्ड एजुकेशन (Skill Based Education) को काफी महत्व दिया जा रहा है. दरअसल, इन दिनों भारत में स्किल बेस्ड जॉब (Skill Based Jobs) का ट्रेंड काफी बढ़ गया है (Trending Jobs In India). इसके जरिए नौकरी हासिल करना और अपनी जगह बना पाना आसान हो जाता है (Career Guidance).

अप्रेंटिसशिप (Apprenticeship Meaning) का मतलब ट्रेनिंग (Training) होता है. इसे हिंदी में प्रशिक्षु कहा जाता है. यह ट्रेनिंग पीरियड होता है और इसमें सामान्य वर्कर की तरह इंडस्ट्री में रहकर काम सीखना होता है (Apprenticeship Profile). अप्रेंटिसशिप  के बाद जॉब की गारंटी बढ़ जाती है Apprenticeship India. अगर आप भी अप्रेंटिसशिप के जरिए जल्द नौकरी हासिल करना चाहते हैं तो जानिए इससे जुड़ी सभी जरूरी बातें.

काम समझने के लिए जरूरी है ट्रेनिंग
अप्रेंटिसशिप के जरिए कार्य करने की क्षमता बढ़ाई जा सकती है (Apprenticeship Profile). साथ ही इससे काम करने के तरीके में भी निखार आता है. इसमें कोई क्लासेस नहीं होती हैं, बल्कि सीधे ट्रेनिंग दी जाती है. अप्रेंटिसशिप आमतौर पर 3 महीने से 4 साल तक की होती है (Apprenticeship India). लेकिन ज्यादातर लोग 6 महीने से 1 साल तक की अप्रेंटिसशिप को प्राथमिकता देते हैं.

अप्रेंटिसशिप के दौरान मिलता है इतना वेतन
अप्रेंटिसशिप के दौरान अभ्यर्थियों को कुछ स्टाइपेंड भी दिया जाता है (Apprenticeship Stipend). जानिए अप्रेंटिसशिप के अलग-अलग लेवल पर मिलने वाली सैलरी.

स्कूल पास आउट (कक्षा 5 से 9 ) – 5000 रुपये प्रति माह
स्कूल पास आउट (कक्षा 10) – 6000 रुपये प्रति माह
स्कूल पास आउट (कक्षा 12) – 7000 रुपये प्रति माह
राष्ट्रीय या राज्य प्रमाणपत्र धारक – 7000 रुपये प्रति माह
किसी भी स्ट्रीम या सैंडविच कोर्स में तकनीशियन अप्रेंटिस या डिप्लोमा धारक (डिग्री संस्थानों के छात्र) – 8000 रुपये प्रति माह
किसी भी स्ट्रीम में ग्रेजुएट अप्रेंटिस या डिग्री अप्रेंटिसशिप या डिग्री धारक – 8000 रुपये प्रति माह

ये भी पढ़ें:
GATE 2022: गेट 2022 के लिए टॉपर्स लिस्ट जारी, स्कोर कार्ड कल
सीबीएसई टर्म 1 एवं टर्म 2 का कितना होगा वेटेज, कैसे तैयार होगा फाइनल रिजल्ट? जानिए यहां

Tags: Career Guidance, Job, Jobs in india

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर