एनेस्थीसिया तकनीक में भी हैं करियर की संभावनाएं, ऐसे करें कोर्स

मरीज को बेहोश करने या उसके ऑपरेशन वाले हिस्से को सुन्न करने की तकनीक को ही एनेस्थीसिया टेक्नोलॉजी कहा जाता है.

इस फील्ड में कोर्स करने के बाद आपको हॉस्पिटल्स (Hospitals), नर्सिंग होम (Nursing Home) और मेडिकल कॉलेज आदि में आसानी से जॉब (Jobs) मिल जाती हैं.

  • Share this:
    नई दिल्ली. जहां एक तरफ स्टूडेंट्स में मेडिकल (Medical) फील्ड के प्रति खास क्रेज़ देखने को मिलता है, वहीं अब पैरामेडिकल (Paramedical) फील्ड में भी स्टूडेंट्स का रुझान बढ़ता जा रहा है. आज हम पैरामेडिकल क्षेत्र के तहत बात करेंगे 'एनेस्थीसिया टेक्नोलॉजी' (Anesthesia Technology) की. अगर आपने हाल ही में 12वीं पास की है और आप पैरामेडिकल फील्ड में जाना चाहते हैं तो एनेस्थीसिया टेक्नोलॉजी आपके लिए करियर (Career) का एक बेहतर विकल्प (Option) साबित हो सकता है. चलिए जानते हैं कि क्या हैं इस क्षेत्र में संभावनाएं (Opportunities).

    क्या है एनेस्थीसिया तकनीक:
    जब किसी मरीज (Patient) को ऑपरेशन (Operation) की जरूरत होती है, तो पहले उसे बेहोश (Unconscious) करना पड़ता है ताकि उसे दर्द का पता न चले. अब बेहोश करने के अलावा मरीज के शरीर के उस हिस्से को सुन्न भी कर दिया जाता है, जिसका ऑपेरशन होना है. मरीज को बेहोश करने या उसके ऑपरेशन वाले हिस्से को सुन्न करने की तकनीक को ही एनेस्थीसिया टेक्नोलॉजी कहा जाता है. इस काम को करने वाले प्रोफेशनल्स को एनेस्थीसिया टेक्नीशियन के तौर पर जाना जाता है. एनेस्थीसिया एक्सपर्ट को इस बात का खास ध्यान रखना होता है कि मरीज को बेहोश करने या उसके अंग को सुन्न करने के लिए कितनी डोज जरूरी है.

    कैसे करें कोर्स:
    एनेस्थीसिया टेक्नोलॉजी में करियर बनाने के लिए स्टूडेंट का 12वीं में साइंस स्ट्रीम से कम से कम 50 प्रतिशत अंकों से पास होना जरूरी है. इसके बाद वे इस फील्ड में डिप्लोमा (Diploma) या डिग्री (Degree) हासिल कर सकते हैं. वर्तमान में कई सरकारी और प्राइवेट इंस्टीट्यूट पैरामेडिकल फील्ड में ऐसे कोर्स संचालित कर रहे हैं.

    ये है करियर स्कोप:
    एनेस्थीसिया टेक्नोलॉजी में करियर की बहुत अच्छी संभावनाएं हैं. इस फील्ड में कोर्स करने के बाद आपको हॉस्पिटल्स (Hospitals), नर्सिंग होम (Nursing Home) और मेडिकल कॉलेज आदि में आसानी से जॉब (Jobs) मिल जाती हैं. इस फील्ड में अब रिसर्च सेक्टर में भी जॉब की काफी संभावनाएं हैं.

    ये भी पढ़ें-
    करियर में स्थिरता और सफलता लाने में मदद करेंगी ये 3 बातें
    मास कम्युनिकेशन के लिए ये हैं टॉप 10 कॉलेज, कोर्स के बाद ये हैं संभवनाएं

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.