होम /न्यूज /करियर /Career Option After MCA: MCA करने के बाद कहां मिलती है नौकरी, क्या हैं करियर ऑप्शन्स? जानिए

Career Option After MCA: MCA करने के बाद कहां मिलती है नौकरी, क्या हैं करियर ऑप्शन्स? जानिए

Career Tips: ग्रेजुएशन की डिग्री वाले लोग इस कोर्स में दाखिला ले सकते हैं.

Career Tips: ग्रेजुएशन की डिग्री वाले लोग इस कोर्स में दाखिला ले सकते हैं.

Career Option After MCA: एमसीए एक मास्टर डिग्री कोर्स है. जिसे पूरा करने में दो साल का समय लगता है. एमसीए करने वालों के ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

एमसीए कोर्स में कंप्‍यूटर इंजीनियरिंग से जुड़े विषयों का अध्ययन करवाया जाता है.
एमसीए कोर्स करने से कंप्यूटर के क्षेत्र में अच्छी नौकरी मिलती है.
एमसीए कोर्स पूरा करने के बाद हाई सैलरी हासिल कर सकते हैं.

नई दिल्ली: Career Option After MCA: एमसीए यानि मास्टर ऑफ कंप्यूटर एप्लिकेशन. यह एक पोस्ट ग्रेजुएशन कोर्स है जो विद्यार्थियों को कंप्यूटर प्रोग्राम, एप्लिकेशन सॉफ्टवेयर, कंप्यूटर आर्टिटेक्चर और ऑपरेटिंग सिस्टम जैसे विषयों में ट्रेन करता है. एमसीए कोर्स को पूरा करने में दो साल का वक्त लगता है. देश के ज्यादातर संस्थानों में मेरिट और एंट्रेंस एग्जाम के बेसिस पर दाखिला मिलता है. अगर आपने भी एमसीए कोर्स पूरा कर लिया है और करियर ऑप्शन की जानकारी लेना चाहते हैं तो आर्टिकल आपके लिए है. आइए जानते हैं एमसीए का करियर स्कोप क्या है, जॉब प्रोफाइल क्या होती है और सैलरी कितनी मिलती है.

मास्टर ऑफ कंप्यूटर एप्लिकेशन प्रोफेशनल का स्कोप क्या है?
देश-दुनिया में आईटी इंडस्ट्री तेजी से ग्रो कर रही है. जिसकी वजह से एमसीए प्रोफेशनल के लिए कई करियर के अवसर बन रहे हैं. कई आईटी कंपनियों में टॉप लेवल पर एमसीए प्रोफेशनल की जरूरत पड़ती है. एमसीए प्रोफेशनल को स्टार्ट-अप में अच्छे अवसर मिलते हैं. एमसीए प्रोफेशनल को भारत में Yr हैंडसम सैलरी मिलती है.

मास्टर ऑफ कंप्यूटर एप्लिकेशन प्रोफेशनल किन जॉब प्रोफाइल पर काम करते हैं?
टेक्नीकल राइटर: सालाना औसत सैलरी 4 से 6 लाख रुपये.
हार्डवेयर इंजीनियर: सालाना औसत सैलरी 3 से 5 लाख रुपये.
सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर: सालाना औसत सैलरी 3 से 5 लाख रुपये.
मोबाइल एप डेवलपर: सालाना औसत सैलरी 4 से 7 लाख रुपये
नेटवर्क एडमिनिस्ट्रेटर: सालाना औसत सैलरी 3.5 से 5.5 लाख रुपये.
सिस्टम एनालिस्ट: सालाना औसत सैलरी 6 से 8 लाख रुपये.
वेब डेपलपर: सालाना औसत सैलरी 3 से 6 लाख रुपये.
सॉफ्टवेयर डेवलपर: सालाना औसत सैलरी 5 से 7 लाख रुपये.

यह भी पढ़ें:
Education News: अपनाएं ये आसान टिप्स, पढ़ाई करते समय कभी नहीं भटकेगा मन

CLAT Exam Preparation Tips: क्लैट परीक्षा की कैसे करें तैयारी? देखें महत्वपूर्ण टिप्स

Tags: Career, Career Guidance, Education

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें