Home /News /career /

Career Tips: एविएशन इंडस्ट्री में हैं कमाल के जॉब ऑप्शन, ऐसे बनाएं करियर

Career Tips: एविएशन इंडस्ट्री में हैं कमाल के जॉब ऑप्शन, ऐसे बनाएं करियर

एविएशन इंडस्ट्री में बनाएं शानदार करियर

एविएशन इंडस्ट्री में बनाएं शानदार करियर

Career Tips, Aviation Jobs, Career In Aviation Industry: हवा से बातें करना पसंद है और उसी में करियर बनाने का सपना देख रहे हैं तो अब उसे साकार करने का समय आ गया है (Career Options). दरअसल, पायलट या एयर होस्टेस (Air Hostess Jobs) बनने के अलावा भी ऐसे कई करियर ऑप्शंस हैं, जिनमें आप अपनी किस्मत आजमा सकते हैं. एविएशन इंडस्ट्री (Aviation Industry Jobs) को भी ग्लैमर करियर ऑप्शंस (Glamour Jobs) में गिना जाता है. यहां सर्वाइव करने के लिए काफी मेहनत और धैर्य की जरूरत होती है. साथ ही आपका सॉफ्ट स्पोकन होना भी बहुत जरूरी है (Soft Skills).

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली (Career Tips, Aviation Jobs). युवाओं का एविएशन इंडस्ट्री (Aviation Industry Jobs) की तरफ काफी रुझान देखा जाता है. पढ़ाई पूरी होने के बाद एविएशन से जुड़े कोर्स (Aviation Course) करना या डिग्री हासिल करना आम बात हो चुकी है. इस क्षेत्र का ग्लैमर किसी को भी आकर्षित करने के लिए काफी है. दरअसल, इस इंडस्ट्री में सैलरी पैकेज (Air Hostess Salary) भी काफी शानदार होता है. एविएशन इंडस्ट्री का जिक्र होते ही दिमाग अक्सर पायलट (Pilot Jobs) या एयर होस्टेस (Air Hostess Jobs) की तरफ ही जाता है, जबकि इस क्षेत्र में और भी कई करियर ऑप्शंस हैं.

    एविएशन इंडस्ट्री का दायरा केबिन क्रू से काफी बढ़कर है. इस इंडस्ट्री में एयरपोर्ट मैनेजमेंट (Airport Management Jobs), एयरपोर्ट ग्राउंड स्टाफ, फ्लाइट इंजीनियर, एयर टिकटिंग, एयर ट्रैफिक कंट्रोलर, एयर कार्गो मैनेजमेंट, मीटिरियोलॉजिस्ट जैसे जॉब प्रोफाइल पर भी काम किया जा सकता है.

    केबिन क्रू (Cabin Crew Jobs)– अगर आपकी पर्सनालिटी आकर्षक है, हिन्दी और अंग्रेजी भाषा पर अच्छी पकड़ है, न्यूनतम योग्यता किसी भी विषय से 10+2 है, लंबाई 157 से 170 सेंटीमीटर के बीच है और आयु 17 से 26 वर्ष के बीच है तो क्षेत्र में करियर बना सकते हैं. इस कोर्स की अवधि 1 वर्ष होती है.

    ग्राउंड स्टाफ (Ground Staff Jobs): 6 महीने से 1 वर्ष तक के डिप्लोमा इन एयरपोर्ट ग्राउंड सर्विस मैनेजमेंट कोर्स में एयरपोर्ट टर्मिनोलॉजी, चेक-इन प्रोसीजर, एयरपोर्ट सिक्योरिटी, कार्गो रूल्स, एयरपोर्ट सिग्नल्स सहित पर्सनालिटी ग्रूमिंग जैसे विषय शामिल किए जाते हैं. इसके लिए न्यूनतम 50 प्रतिशत अंकों के साथ किसी भी विषय में 10+2 होना जरूरी है. वहीं आयु 18 से 26 वर्ष के बीच होनी चाहिए.

    यह भी पढ़ें:
    Career Tips: नौकरी छोड़कर बिजनेस शुरू कर रहे हैं? फैसला लेने से पहले जानें जरूरी बातें
    Career Tips: इंटरव्यू देने के बाद तुरंत करें ये काम, जल्दी आएगा ऑफर लेटर

    एयर कार्गो मैनेजमेंट (Air Cargo Management): 6 से 9 महीने तक के डिप्लोमा इन इंटरनेशनल एयर कार्गो मैनेजमेंट कोर्स में एविएशन हिस्ट्री और जियोग्राफी के अलावा कार्गो लॉ, कस्टम रूल्स, वेयरहाउसिंग, एयरक्राफ्ट लिमिटेशन व लोडिंग कैपेसिटी, क्लीयरेंस प्रोसीजर, क्लेम रूल्स, बीमा और फ्री ट्रेड जोन जैसे विषय पढ़ाए जाते हैं. इस क्षेत्र में भी प्रवेश के लिए न्यूनतम 10+2 की शैक्षणिक योग्यता और 18 वर्ष से ऊपर की आयु होनी चाहिए.

    एयर टिकटिंग (Air Ticketing): इसमें प्रवेश के लिए न्यूनतम 10+2 की शैक्षणिक योग्यता और 18 वर्ष से ऊपर की आयु होनी चाहिए. न्यूनतम 6 से 9 महीने तक की अवधि वाले डिप्लोमा इन एयर टिकटिंग एंड ट्रैवल मैनेजमेंट कोर्स में ट्रैवल एजेंसी बिजेनस, वर्ल्ड टाइम जोन, एयरपोर्ट व एयरलाइन कोड्स, पेमेंट मोड्स, फॉरेन करेंसी, पासपोर्ट व वीजा आदि की ट्रेनिंग दी जाती है.

    Tags: Career Guidance

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर