बड़ी बात : सीबीएसई बोर्ड एग्जाम पर ताजा अपडेट, जानिए क्या रद्द हो जाएंगी 10वीं-12वीं की परीक्षाएं!

सीबीएसई बोर्ड की दसवीं के नतीजों का ऐलान जल्द किया जाएगा.

सीबीएसई बोर्ड (CBSE Board) की दसवीं और बारहवीं की स्थगित परीक्षाएं 1 से 15 जुलाई तक होनी है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड यानी सीबीएसई (CBSE) के दसवीं और बारहवीं की स्थगित परीक्षाएं शुरू होने में ज्यादा वक्त नहीं बचा है. ये परीक्षाएं कोरोना वायरस (Coronavirus) के चलते लागू किए गए लॉकडाउन (Lockdown) की वजह से पूरी नहीं हो सकी थीं. हालांकि अब एक बार फिर सीबीएसई बोर्ड की इन परीक्षाओं पर संकट मंडराने लगा है. ऐसा इसलिए क्योंकि अब न केवल सीबीएसई बल्कि सीआईसीएसई बोर्ड (CICSE  Board) की एक जुलाई से प्रस्तावित परीक्षाओं को भी रद्द किए जाने की मुहिम शुरू की जा चुकी है.

    पेरेंट्स ने की परीक्षाएं रद्द करने की मुहिम
    दरअसल, देश में कोरोना वायरस (Coronavirus) का प्रकोप लगातार बढ़ता जा रहा है. रोज हजारों की तादाद में कोविड19 (Covid19) के नए-नए मामले सामने आ रहे हैं. ऐसे में कई पेरेंट्स ने सीबीएसई और सीआईसीएसई बोर्ड (CBSE and CICSE Board) की परीक्षाएं रद्द करने की मांग को लेकर अभियान शुरू कर दिया है. पेरेंट्स का कहना है कि इन लंबित परीक्षाओं को रद्द कर इंटरनल असेस्टमेंट के आधार पर छात्रों को नंबर दे दिए जाने चाहिए. कई पेरेंट्स ने तो ऑनलाइन कैंपेन हैशटैग “studentlivesmatter”, “livesoverexams” और “cancelboardexams” भी शुरू कर दिया है.

    हमारे बच्चों की सुरक्षा की जिम्मेदारी कौन लेगा
    सीबीएसई परीक्षाएं (CBSE Exam) रद्द करने की मांग कर रहे एक अभिभावक ने कहा, कोई एक भी संक्रमित व्यक्ति पूरी क्लास को कोरोना वायरस की चपेट में ला सकता है. ऐसे में हमारे बच्चों की सुरक्षा की जिम्मेदारी कौन लेगा. वहीं एक पेरेंट ने कहा, अगर इतनी तैयारियों के बावजूद अंतिम वक्त में परीक्षाएं रद्द की जाती हैं तो बच्चों पर इसका कैसा असर पड़ेगा. वैसे मौजूदा समय में हालात में सुधार की गुंजाइश नजर नहीं आ रही है. इसी वजह से पंजाब, तेलंगाना और तमिलनाडु ने दसवीं बोर्ड की परीक्षाएं इस साल रद्द कर दी हैं.

    सुप्रीम कोर्ट में पहले ही दायर की जा चुकी है याचिका
    इतना ही नहीं, चार अभिभावकों ने तो सीबीएसई परीक्षाएं रद्द करने को लेकर सुप्रीम कोर्ट का भी रुख कर लिया है. उन्होंने कोर्ट में याचिका दायर कर गुहार लगाई है कि कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए परीक्षाओं को रद्द कर दिया जाना चाहिए. बता दें कि देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या करीब सवा तीन लाख हो गई. रविवार को 9000 से ज्यादा लोग इस वायरस के संक्रमण की चपेट में आ गए.

    सीबीएसई के 250 स्कूलों में रद्द की गई परीक्षाएं
    सुप्रीम कोर्ट में दायर याचिका में ये दलील भी दी गई है कि विदेश में स्थित सीबीएसई के करीब 250 स्कूलों में दसवीं और बारहवीं की परीक्षाएं रद्द कर दी गई हैं और प्रैक्टिल एग्जाम या इंटरनल असेस्टमेंट के आधार पर नतीजों का ऐलान किया जाएगा, ऐसे में यही एप्रोच भारत में क्यों नहीं अपनाई जा रही है.

    सुशांत सिंह राजपूत ने इंजीनियरिंग परीक्षा में हासिल की थी ऑल इंडिया 7वीं रैंक

    UP Board Result: डेट हुई कंफर्म, 27 को आएगा 10वीं, 12वीं परीक्षा का रिजल्‍ट

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.