CBSE Exam 2020: मैथ्स में कमज़ोर स्टूडेंट्स के लिए खुशखबरी, 10वीं में होंगे मैथ्स के दो पेपर

गणित परीक्षा के लिए विकल्प 10वीं बोर्ड परीक्षा 2020 के लिए रजिस्ट्रेशन फॉर्म में दिए जाएंगे.

News18Hindi
Updated: August 10, 2019, 6:09 PM IST
CBSE Exam 2020: मैथ्स में कमज़ोर स्टूडेंट्स के लिए खुशखबरी, 10वीं में होंगे मैथ्स के दो पेपर
cbse 10वीं बोर्ड एग्जाम में दो मैथ्स के पेपर कराने की तैयारी कर रहा है.
News18Hindi
Updated: August 10, 2019, 6:09 PM IST
CBSE Exam 2020:  रिपोर्ट्स के मुताबिक, सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन साल 2020 में 10वीं क्लास के बोर्ड एग्जाम में दो अलग-अलग मैथ्स के पेपर कराने की तैयारी कर रहा है. एक पेपर बेसिक मैथ्स का होगा जबकि दूसरा स्टैंडर्ड मैथ्स के लिए होगा. कैंडीडेट्स को 2020 के लिए 10वीं बोर्ड के एग्जाम का रजिस्ट्रेशन फॉर्म भरते हुए अपनी चॉइस भरनी होगी. जो कैंडीडेट्स बेसिक मैथ्स का ऑप्शन चुनेंगे वे 11वीं में मैथ्स नहीं ले सकेंगे.

यदि किसी स्थिति में अगर कोई कैंडीडेट बेसिक मैथ्स में पास होने के बाद भी 11वीं में मैथ्स लेना चाहे तो उसे स्टैंडर्ड मैथ्स का कंपार्टमेंट एग्जाम पास करना होगा. गणित परीक्षा के लिए विकल्प 10वीं बोर्ड परीक्षा 2020 के लिए रजिस्ट्रेशन फॉर्म में दिए जाएंगे.

उम्मीदवारों को केवल उस पेपर के लिए उपस्थित होने की अनुमति होगी जिसे उन्होंने अपने पंजीकरण फॉर्म में भरा होगा. बोर्ड परीक्षा के नियंत्रक डॉ संयम भारद्वाज ने कहा, बेसिक मैथ्स का विकल्प चुनने वाले छात्र कक्षा 12 में गणित नहीं ले पाएंगे. अगर ये बेसिक मैथ्स की परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त करते हैं और कक्षा 12 में मैथ्स लेने की इच्छा रखते हैं, तो उन्हें अगले साल जुलाई में होने वाली कक्षा 10 की कंपार्टमेंटल परीक्षा में शामिल होना होगा.

कंपार्टमेंटल परीक्षा पास करने के बाद ही कैंडीडेट्स कक्षा 11 में गणित ले पाएंगे. यह पहली बार है जब बोर्ड छात्रों को किसी सबजेक्ट को पास होने का मौका कंपार्टमेंटल परीक्षा पास करने के जरिए दे रहा है.

बता दें कि बोर्ड ने बेसिक मैथ्स के पेपर के सिलेबस में बदलाव नहीं किया है. दोनों मैथ्स के पेपरों का सिलेबस एक जैसा होगा, लेकिन दोनों पेपरों के कठिनाई स्तर में बदलाव होगा. स्टैंडर्ड मैथ्स का पेपर कॉन्सेप्ट के आधार पर बेसिक मैथ्स से मुश्किल होगा.

बोर्ड ने छात्रों को यह भी सलाह दी है कि यदि अगर उन्हें सब्जेक्ट नें इंटेरेस्ट हो तो ही गणित लें. साथ ही ये भी कहा गया है कि जो स्टूडेंट्स मैथ्स में कमज़ोर हैं वे बेसिक मैथ्स चुनें. बोर्ड की तरफ से बेसिक गणित लेने वाले छात्रों को पास किया जाएगा.

ये भी पढ़ें-
Loading...

बिहार का ये कॉलेज बिना पढ़ाई बांट रहा है शास्त्री की डिग्री
विकलांगता के बावजूद पहली बार में 9वीं रैंक हासिल कर बनीं IAS
टेस्‍ट में पूछा, ‘जय श्री राम’ के नारे का दुष्‍प्रभाव बताएं

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नौकरियां/करियर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 10, 2019, 6:09 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...