CBSE ने आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस को नए विषय में किया शामिल

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) इसी सत्र से स्कूल पाठ्यक्रम में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) को नये विषयों के तौर पर शामिल करने जा रहा है.

News18Hindi
Updated: September 12, 2019, 5:35 PM IST
CBSE ने आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस को नए विषय में किया शामिल
CBSE ने आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस को नए विषय में किया शामिल
News18Hindi
Updated: September 12, 2019, 5:35 PM IST
केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (Central Board of Secondary Education (CBSE) इसी सत्र से स्कूल पाठ्यक्रम में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) को नये विषयों के तौर पर शामिल करने जा रहा है. सीबीएसई ने आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का पाठ्यक्रम भी तैयार कर लिया है. इसे 'इंटेल' की मदद से तैयार कर लिया गया है. इस बारे में सीबीएसई की अध्यक्ष अनिता करवाल ने बताया कि हमने शैक्षणिक सत्र 2019- 20 से 9वीं कक्षा से वैकल्पिक विषय के रूप में ‘आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस को शुरू किया है.

इसके साथ ही आठवीं कक्षा में हम आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस को बतौर विषय पेश करने जा रहे हैं. ’करवाल ने बताया कि अब तक आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का कहीं भी सुव्यवस्थित पाठ्यक्रम नहीं बना. शायद सीबीएसई ही दुनिया में पहला बोर्ड होगा, जिसने आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर पाठ्यक्रम तैयार किया है. सीबीएसई की अध्यक्ष ने बताया,इस पाठ्यक्रम को इंटेल :चिप बनाने वाली कंपनी: की मदद से तैयार किया गया है.

ऐसा होगा  परीक्षा पैर्टन

अध्‍यक्ष ने बताया कि शुरुआत में यह कोर्स 12 घंटे की अवधि का होगा. अधिकारियों ने बताया कि इस कोर्स के लिये प्रशिक्षण कार्य भी शुरू किया जायेगा. वहीं, नौवीं कक्षा के लिये आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का पाठ्यक्रम 112 घंटे का है और इसे 168 कक्षाओं में बांटा गया है. इसमें आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का परिचय 12 घंटे का है . एआई प्रोजेक्ट चक्र 26 घंटे, न्यूरल नेटवर्क 4 घंटे तथा पाइथन का परिचय विषय 70 घंटे का है.

कला शिक्षा होगी अनिवार्य

बोर्ड ने कहा है कि कक्षा एक से 10 तक बोर्ड के स्कूलों में सह शैक्षणिक क्षेत्र के रूप में कला शिक्षा अनिवार्य होगी.  बोर्ड की अध्यक्ष अनिता करवाल ने बताया, ‘कला समेकित शिक्षा प्रायोगिक ज्ञान की ओर पहल के तहत कक्षा एक से 10 तक कला शिक्षा को अनिवार्य बनाया गया है. इस पहल के तहत बोर्ड द्वारा जारी हस्तपुस्तिका में यह बताया गया है कि कला, पाठ्यक्रम के एक अभिन्न अंग के रूप में जारी रहेगी . एक सह शैक्षणिक क्षेत्र के रूप में कक्षा एक से 10 के लिये यह अनिवार्य होगी.

ये भी पढ़ें: 
Loading...

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सरकारी नौकरी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 12, 2019, 5:17 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...