CBSE Syllabus 2020-21: इस नए सब्जेक्ट के लिए सीबीएसई ने जारी की हैंडबुक, ऐसे करें डाउनलोड

CBSE Syllabus 2020-21: इस नए सब्जेक्ट के लिए सीबीएसई ने जारी की हैंडबुक, ऐसे करें डाउनलोड
यह हैंडबुक Applied Mathematics की पढ़ाई करने और समझने में मदद करेगी.

CBSE Syllabus 2020-21: चूंकि यह कोर्स इसी साल से इंट्रोड्यूस हुआ है इसलिए अभी इसकी किताबें उपलब्ध नहीं हैं. इस बुक को पढ़ाई के लिए यूज़ किया जा सकता है.

  • Share this:
नई दिल्लीः केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड, सीबीएसई (Central Board of Secondary Education, CBSE) ने 11वीं और 12वीं कक्षा के लिए अप्लाइड मैथ्स विषय की हैंडबुक (Applied Mathematics handbook) जारी कर दी है. सीबीएसई ने यह नया विषय 2020-212 के सेशन से कॉमर्स और ह्यूमनिटीज़ के छात्रों के लिए शुरू किया है. चूंकि यह अभी नया विषय है इसलिए सीबीएसई ने न सिर्फ सिलेबस जारी किया है बल्कि हैंडबुक भी जारी कर दिया है. इसे ऑनलाइन डाउनलोड किया जा सकता है.

स्कूलों को भेजी जा चुकी है हैंडबुक-
बोर्ड से संबद्ध स्कूलों को अप्लाइड मैथमेटिक्स हैंडबुक्स भेजी जा चुकी हैं. इन हैंडबुक्स में सिलेबस के साथ साथ नया कोर्स भी है. चूंकि यह कोर्स इसी साल से इंट्रोड्यूस हुआ है इसलिए अभी इसकी किताबें उपलब्ध नहीं हैं. इस बुक को पढ़ाई के लिए यूज़ किया जा सकता है.

बता दें कि सीबीएसई ने 1 अप्रैल 2020 को एक विज्ञप्ति जारी करते हुए कहा था कि मैथमेटिक्स का वर्तमान सिलेबस साइंस स्ट्रीम के विषयों के साथ तो सामंजस्य में तो है लेकिन उच्च शिक्षण संस्थानों में कॉमर्स एवं सोशल साइंस स्ट्रीम के विषयों के साथ कोई सामंजस्य नहीं है. बोर्ड ने विज्ञप्ति में कहा कि अप्लाईड मैथमेटिक्स के जरिए क्रिटिकल थिंकिंग, प्रॉब्लम सॉल्विंग, लॉजिकल रीजनिंग और मैथमेटिकल थिंकिंग जैसे स्किल्स को इंप्रूव किया जाएगा.
सीबीएसई रिवाइज़ड सिलेबस (CBSE Revised Syllabus)-


सभी विषयों के रिवाइज़्ड सिलेबस के बारे में सीबीएसई ने अभी तक कोई सूचना नहीं दी है. बोर्ड और मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने कन्फर्म किया है कि चूंकि कोरोना की वजह से काफी समय बेकार हो चुका है इसलिए सिलेबस को छोटा किया जाएगा. हालांकि, नए सेशन की क्लासेज तो ऑनलाइन शुरू हो गई हैं लेकिन सीबीएसई ने कहा है कि सिलेबस को छोटा किया जाएगा.

हालांकि, पहली से आठवीं कक्षा के लिए तो स्कूल अपने से सिलेबस को छोटा कर सकते हैं लेकिन दसवीं और 12वीं की कक्षाओं के लिए बोर्ड ने कहा है कि वे मौजूदा सिलेबस को ही पढ़ाएं क्योंकि इसके कुछ ही भाग को हटाया जाएगा पूरा चैप्टर नहीं हटाया जाएगा.

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज