बड़ी खबर: 9वीं -11वीं के असफल छात्रों के लिए खुशखबरी, CBSE ने दिया ये मौका

बड़ी खबर: 9वीं -11वीं के असफल छात्रों के लिए खुशखबरी, CBSE ने दिया ये मौका
CBSE ने 9वीं-11वीं के छात्रों के लिए बड़ा फैसला लिया है.

बोर्ड की ओर से कहा गया है कि ये मौका सिर्फ कोविड-19 की स्थिती के मद्देनजर दिया जा रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 8, 2020, 4:15 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन (Central Board of Secondary Education) , सीबीएसई बोर्ड ने 9वीं -11वीं के असफल स्टूडेंट्स की चिंता दूर करने के लिए एक अहम फैसला लिया है. जो छात्र एग्जाम में फेल हुए हैं उन्हें पास होने का मौका दिया जाएगा. इस मौके के तौर पर उन्हें स्कूल-बेस्ड टेस्ट में बैठने का अवसर दिया जाएगा.

ये मौका उन सभी छात्रों को दिया जाएगा, जिनके एग्जाम पूरे हुए और नहीं हुए. स्कूल-बेस्ड टेस्ट में बैठने के लिए सब्जेक्ट नंबरों की भी कोई बंदिश नहीं है.

ये मौका उन सभी स्कूलों को दिया जा रहा है, जो स्कूल cbse से मान्यता प्राप्त हैं. बोर्ड की ओर से कहा गया है कि ये मौका सिर्फ कोविड-19 की स्थिती के मद्देनजर दिया जा रहा है. पढ़ें  पूरा नोटिस.




इसके अलावा सीबीएसई की बोर्ड ने हाल ही में कंपार्टमेंट एग्जाम पर भी अपना रुख साफ किया है. बोर्ड ने कहा है कि वे 10वीं, 12वीं के छात्रों के लिए कंपार्टमेंट एग्जाम कैंसिल नहीं करेंगे. महामारी के दौरान परीक्षा आयोजित करने को लेकर बोर्ड को छात्रों से कई शिकायतें मिलीं. जिसके बाद बोर्ड ने आधिकारिक वेबसाइट cbse.nic.in पर नोटिस जारी कर परीक्षा आयोजित करने पर अपना रुख साफ किया. छात्रों की शिकायतों के जवाब में, CBSE ने इस बात की जानकारी दी है कि परीक्षा आयोजित करना क्यों आवश्यक है.

ये भी पढ़ें-
नई शिक्षा नीति को लेकर यूजीसी का बड़ा ऐलान, टीचर्स और स्टूडेंट्स को किया शामिल
Karnataka 10th Result: 10 अगस्त को 3 बजे जारी होगा कर्नाटक बोर्ड 10वीं रिजल्ट

CBSE Compartment Exam 2020 पर बोर्ड का जवाब
-बोर्ड ने बताया, विश्वविद्यालय की अंतिम वर्ष की परीक्षा, जेईई मेन, एनईईटी-यूजी, जेईई एडवांस जैसी परीक्षाएं हायर एजुकेशन दाखिले के लिए आयोजित की जाती हैं. जिनके लिए बोर्ड परीक्षा परिणाम की आवश्यकता होती है. यूजीसी ने विश्वविद्यालय प्रवेश और परीक्षा के मामले में दिशानिर्देश जारी किए हैं.
-गृह मंत्रालय ने परीक्षा आयोजित करने, स्कूलों के खोलने के संबंध में कुछ छूट प्रदान की है. इसमें मूल्यांकन कार्य (evaluation work) का संचालन भी शामिल है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज