CBSE: 9वीं-10वीं में 5 की जगह 9 विषय पढ़ने का ऑप्शन, 11वीं में तीन स्किल कोर्स शुरू

परीक्षा नियंत्रक ने कहा कि इस साल भी सीबीएसई बोर्ड का रिजल्ट समय पर ही आ सकता है.

परीक्षा नियंत्रक ने कहा कि इस साल भी सीबीएसई बोर्ड का रिजल्ट समय पर ही आ सकता है.

सीबीएसई 'डिजाइन-थिंकिंग, 'फिजिकल एक्टिविटी ट्रेनर' और 'आर्टिफिशियल इंटेलिजें' नाम से तीन नए विषयों की शुरुआत कर रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 10, 2020, 4:28 PM IST
  • Share this:

नई दिल्ली. सीबीएसई के 9वीं और 10वीं क्लास के छात्रों को अब नौ विषय पढ़ने होंगे. मतलब कि स्टूडेंट पांच अनिवार्य विषयों यानी इंग्लिश, हिंदी, मैथ्स, सोशल साइंस और साइंस के अलावा वे चार और विषय ले सकते हैं छठा सब्जेक्ट कोई स्किल सब्जेक्ट होगा और 7वां विषय तीसरी भाषा होगी. 8वां और 9वां विषय आर्ट एजुकेशन, हेल्थ फिजिकल एजुकेशन और वर्क एक्सपीरियंस में से कोई एक को चुनना होगा. आठवें और नौवें विषय का मूल्यांकन स्कूल स्तर पर ही होगा.

सीबीएई ने तीन ग्रुप्स में विषयों को बांटा है

सीबीएसई ने सभी विषयों को क्लब किया है और छात्र पसंद के मुताबिक किसी भी ग्रुप को चुन सकते हैं. मुख्य रूप से तीन ग्रुप हैं मुख्य विषय, ऐच्छिक विषय और भाषा. अगर कोई छात्र तीन अनिवार्य शैक्षिक विषयों जैसे विज्ञान, गणित या सामाजिक विज्ञान में से किसी एक में फेल हो जाता है और स्किल सब्जेक्ट में पास हो जाता है तो जिस विषय में फेल हुआ है, उसकी जगह स्किल सब्जेक्ट का नाम जोड़कर 10वीं का रिजल्ट बनाया जाएगा.


नए सत्र से शुरू होगी पढ़ाई

सीबीएसई ‘डिजाइन-थिंकिंग’, ‘फिजिकल एक्टिविटी ट्रेनर’ और ‘आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस’ नाम से तीन नए विषयों की शुरुआत कर रहा है. ये विषय सत्र 2020-2021 से कक्षा 11वीं को पढ़ाए जाएंगे.

ये भी पढ़ें- कक्षा 1 से 9 और 11 के छात्रों को बिना परीक्षा प्रमोट करेगी बिहार सरकार

सभी राज्यों की बोर्ड परीक्षाओं/ प्रतियोगी परीक्षाओं, उनकी तैयारी और जॉब्स/करियर से जुड़े Job Alert, हर खबर के लिए फॉलो करें- https://hindi.news18.com/news/career/

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज