CBSE Rechecking & Revaluation 2020: जानें किन स्टेप्स में कर सकते हैं cbse.nic.in के जरिए अप्लाई

CBSE Rechecking & Revaluation 2020: जानें किन स्टेप्स में कर सकते हैं cbse.nic.in के जरिए अप्लाई
cbse बोर्ड इन प्रोसेस के लिए शेड्यूल जारी करेगा.

CBSE Rechecking & Revaluation 2020: तीनों स्टेप बारी बारी से एक ही कॉपी पर फॉलो किए जाएंगें. यानी जिसका री-टोटल करवाया उसी की फोटो कॉपी के लिए रिक्वेस्ट की जा सकगी और फिर आखिरी में उसी कॉपी के रीवैल्यूएशन के लिए अप्लाई किया जा सकता है.

  • Share this:
केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड, सीबीएसई बोर्ड (Central Board of Secondary Education, CBSE) 10वीं, 12वीं का रिजल्ट जारी कर चुका है. अब रिजल्ट्स जारी करने के बाद बोर्ड जल्दी ही आंसर शीट्स की रीचेकिंग और रीवैल्यूएशन के लिए विंडो खोल देगा. 10वीं, 12वीं का रिजल्ट पाने वाले छात्र री-टोटल, रीचेकिंग और रीवैल्यूएशन के लिए अप्लाई कर सकते हैं. जानें उसके लिए क्या प्रोसेस है.

री-टोटल, रीचेकिंग और रीवैल्यूएशन का पूरा प्रोसेस ऑनलाइन होगा और इसके लिए फीस देनी होगी. बोर्ड की तरफ से री-टोटल, रीचेकिंग और रीवैल्यूएशन के लिए शेड्यूल जारी किया जाएगा.

री-टोटल, रीचेकिंग और रीवैल्यूएशन के लिए पोर्टल cbse.nic.in पर एक्टिवेट होगा. जानिए स्टेप दर स्टेप इनका पूरा प्रोसेस.



रीचेकिंग और रीवैल्यूएशन 3 स्टेप का प्रोसेस है. पहले री-टोटल कराना होगा. फिर आंसर शीट की फोटो कॉपी के लिए रिक्वेस्ट करनी होगी. आखिर में आंसर शीट का रीवैल्यूएशन होगा. ये तीनों काम क्रमबद्ध होते हैं. रीवैल्यूएशन कुछ चुनिंदा सवालों के लिए अप्लाई किया जाता है. ये तीनों कामों के लिए अलग-अलग फीस लगती है.


इस साल, कोविड 19 के कारण, कई परीक्षाएं आयोजित नहीं की जा सकीं. सीबीएसई एक मूल्यांकन पद्धति पर सहमत हुआ और कुछ विषयों के लिए औसत अंक प्रदान किए. छात्र केवल सीबीएसई बोर्ड परीक्षा 2020 में दिए पेपर के लिए ही रीचेकिंग और पुनर्मूल्यांकन के लिए आवेदन कर सकते हैं.

Step 1: री-टोटल
शुरुआत में छात्र को फिर से नंबर जोड़ने के लिए अप्लाई करना होगा. जैसा कि स्पष्ट है, इसके तहत, सीबीएसई केवल कुल त्रुटियों के लिए उत्तर पुस्तिकाओं की जांच करेगा. या फिर जो प्रश्न शिक्षक द्वारा छूट गया हो तो वह चेक होगा. इसके लिए बोर्ड की तरफ से फिक्स की गई फीस देनी होगी. नंबर बदले जाने की स्थिति में नए नंबर ही फाइनल माने जाएंगे.

Step 2: आंसर शीट की फोटो कॉपी
यदि छात्र री-टोटल से संतुष्ट नहीं होगा तो उसे इस दूसरे स्टेप के लिए अप्लाई करन होगा. कॉपी ऑनलाइन उपलब्ध होन के बाद वे इसे चेक कर सकेंगे.

Step 3: रीवैल्यूएशन
रीवैल्यूएशन फाइनल स्टेप है. छात्र, यदि को यकीन है उनका कोई प्रश्न गलत तरीके से चेक किया गया है, तो वे पुनर्मूल्यांकन के लिए आवेदन कर सकते हैं. रीवैल्यूएशन सिर्फ चुनिंनदा सवालों के लिए होगा, पूरी कॉपी के लिए नहीं. कितने सवाल रीवैल्यूएशन के लिए दिए हैं. उसी मुताबिक फीस लगेगी.

ये भी पढ़ें-
NEET पर बड़ी खबर: मेडिकल कॉलेजों में सरकारी स्कूलों के स्टूडेंट्स के लिए 7.5 प्रतिशत कोटा मंजूर
Kerala Board 12th Result 2020: केरल बोर्ड 12वीं का रिजल्ट जारी, 85.13% पास

नोट- ये तीनों स्टेप बारी बारी से एक ही कॉपी पर फॉलो किए जाएंगें. यानी जिसका री-टोटल करवाया उसी की फोटो कॉपी के लिए रिक्वेस्ट की जा सकगी और फिर आखिरी में उसी कॉपी के रीवैल्यूएशन के लिए अप्लाई किया जा सकता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज