सीबीएसई की नई स्‍कीम ने क‍िया कुछ छात्रों को परेशान, कुछ ने ली राहत की सांस

सीबीएसई की नई स्‍कीम ने क‍िया कुछ छात्रों को परेशान, कुछ ने ली राहत की सांस
सुप्रीम कोर्ट ने सीबीएसई बोर्ड को परीक्षाएं कैंसल करने की अनुमति दे दी है.

जिन छात्रों ने सभी परीक्षाएं दी हैं, उनका परिणाम उनके प्रदर्शन के आधार पर जारी किया जाएगा. जबकि जिन छात्रों ने तीन से ज्‍यादा पेपर्स में भाग लिया है, उनके कुल अंक का मूल्‍यांकन तीन पेपर्स के औसत अंकों के आधार पर किया जाएगा.

  • Share this:
नई द‍िल्‍ली: मह‍ीनों से छात्र सीबीएसई बोर्ड परीक्षा और उसके नतीजों को लेकर परेशान थे. लेकिन शुक्रवार को सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (CBSE) ने यह स्‍पष्‍ट कर द‍िया है क‍ि 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं कोरोना वायरस के कारण कैंसल कर दी जाती हैं और र‍िजल्‍ट के ल‍िये वैकल्‍प‍िक मूल्‍यांकन पैटर्न को अपनाया जाएगा. साल 2019 में सीबीएसई ने 10वीं और 12वीं के पर‍िणाम मई में जारी कर द‍िये थे. इस बार 15 जुलाई 2020 को पर‍िणाम आने की संभावना है. कोव‍िड-19 के कारण इस बार सभी परीक्षाओं के पर‍िणाम जारी करने में देर हो रही है.

हालांक‍ि ज‍िन छात्रों ने सभी बोर्ड पेपर्स दे द‍िये हैं, उनके पेपर का मूल्‍यांकन प्रदर्शन के आधार पर होगा. जबक‍ि ऐसे छात्र ज‍िन्‍होंने तीन से ज्‍यादा पेपर द‍िये हैं, उनके अंक तीन पेपर्स के औसत अंकों के आधार पर तय होंगे. इसी तरह जो छात्र तीन परीक्षा में शाम‍िल हुए उनके दो पेपर्स के अंकों के औसत पर आधार‍ित अंक न‍िकाला जाएगा. ज‍िन छात्रों ने परीक्षाएं नहीं दी हैं, उनका र‍िजल्‍ट इंटरनल असेस्‍मेंट के आधार पर होगा.

कक्षा 12वीं के छात्र यद‍ि इम्‍प्रूवमेंट एग्‍जाम (improvement exams) में शाम‍िल होना चाहते हैं तो वह बाद में शाम‍िल हो सकते हैं.



वहीं छात्रों का कहना है क‍ि सीबीएसई के नोटिफिकेशन से कुछ भी स्‍पष्‍ट नहीं है. वह परीक्षा में शाम‍िल होना चाहते हैं और मार्किंग की ये प्रणाली उन्‍हें अनुच‍ित लग रही है. कुछ छात्रों का कहना है क‍ि ज‍िन व‍िषयों के औसत अंक पर उनका ग्रेड तय होगा, हो सकता है क‍ि उन व‍िषयों में उन्‍होंने अपना अच्‍छा प्रदर्शन क‍िया ही ना हो. ऐसे में उनका नुकसान हो जाएगा.



ये भी पढ़ें
CBSE एग्‍जाम, JEE मेन, NEET और ICAI CA Exam 2020 पर पढ़ें सबसे बड़ी अपडेट
इस राज्य में 15 जुलाई तक टली यूनिवर्सिटी की परीक्षा, सीएम ने की घोषणा

ह‍िन्‍दुस्‍तान टाइम्‍स की एक र‍िपोर्ट के अनुसार कक्षा 12वीं के एक छात्र राहुल ने कहा क‍ि कोविड-19 को देखते हुए यह कदम बि‍ल्‍कुल सही उठाया गया है. हो सकता है कुछ छात्रों को इससे परेशानी हो, लेक‍िन मुझे हॉटेल मैनेजमेंट में बस अच्‍छा औसत अंक चाह‍िये. वैसे हर जगह एडम‍िशन के ल‍िये अब एंट्रेंस टेस्‍ट हो रहा है. ऐसे में स्‍टूडेंट्स को परेशान होने की आवश्‍यकता नहीं है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading