लाइव टीवी
Elec-widget

Children's day special: क्या आपको पता है क्यों मनाया जाता है बाल दिवस

News18Hindi
Updated: November 14, 2019, 6:18 AM IST
Children's day special: क्या आपको पता है क्यों मनाया जाता है बाल दिवस
बाल दिवस क्यों मनाते हैं और क्या है इसका महत्व

बच्चों का मन शीशे सा साफ होता है. बाल दिवस के मौके पर जानते हैं, ये दिन क्यों मनाया जाता है और इसका क्या महत्व है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 14, 2019, 6:18 AM IST
  • Share this:
Children's day 2019:  भारत एक ऐसा देश है जहां बच्चों को भगवान का रूप माना जाता है. बच्चों के अधिकारों और शिक्षा के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए पूरे भारत में बाल दिवस मनाया जाता है. चिल्ड्रंस डे हर साल 14 नवंबर को देश के पहले प्रधान मंत्री जवाहरलाल नेहरू की याद में सेलिब्रेट किया जाता है. जवाहर लाल नेहरू बच्चों में काफी लोकप्रिय थे. उन्हें चाचा नेहरू भी कहा जाता था. वे चाहते थे बच्चों को अच्छी शिक्षा और प्रोत्साहन मिले जिसके लिए उन्होने कई योजनाएं भी चलाई.

बाल दिवस का इतिहास
भारत में चिल्ड्रंस डे 1956 से मनाया जा रहा है. पहले हमारे देश में भी बाल दिवस 20 नवंबर को मनाया जाता था लेकिन 1964 में पंडित जवाहर लाल नेहरू के निधन के बाद उन्हें श्रद्धांजली देने के लिए उनके जन्म दिवस (14 नवंबर) को चिल्ड्रंस डे के रूप में मनाया जाने लगा. नेहरू का कहना था, बच्चों की देखभाल हमेशा प्यार से करनी चाहिए ताकी वे आगे जाकर एक सफल और जिम्मेदार नागरिक बन सकें.

The Architect Of Modern India: जवाहरलाल नेहरू

भारत को आजादी दिलाने के लिए जवाहर लाल नेहरू, महात्मा गांधी के साथ कंधे से कंधा मिलाकर आगे चले. उन्होंने सोशलिस्ट, सेकुलर और डेमोक्रेटिक रिपब्लिक देश के रूप में आजाद भारत की नींव रखी. इसलिए उन्हें 'द आर्किटेक्ट ऑफ मॉडर्न इंडिया' भी कहा जाता है.

बच्चों के पसंदीदा थे चाचा नेहरू
चाचा नेहरू बच्चों में बहुत लोकप्रिय रहे क्योंकि वे बच्चों को बहुत प्यार करते थे.  बच्चे उनके साथ मौका मिलने पर फोटो भी खिचवाते.  चाचा नेहरू का मानना था, बच्चों मन शीशे के समान साफ और सच्चा होता है.
Loading...

पूरे देश में ऐसे मनाया जाता है बच्चों का ये दिन
पूरे भारत में बाल दिवस को उत्साह और खुशी के साथ मनाया जाता है. इस दिन हर स्कूल में बच्चों के लिए मजेदार कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं. इन प्रोग्राम्स में  सभी बच्चे बढ़-चढ़ कर हिस्सा लेते हैं.  इस दिन चॉकलेट्स या मिठाई वगैरह भी बांटी जाती हैं.

ये भी पढ़ें:
CA November 2019 Exam: ICAI ने जारी किया जरूरी नोटिस, बदले गए एग्‍जाम सेंटर
मां ने घर-घर जाकर बनाई रोटियां और पिता ने बेची चाय, बेटा बना IAS अधिकारी
UP Police result 2019: किसी भी पल जारी हो सकता है कांस्‍टेबल परीक्षा का परिणाम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए करियर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 14, 2019, 6:18 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...