कान्स्टेबल भर्ती प्रक्रिया: पुडुचेरी की उपराज्यपाल किरन बेदी ने भर्ती पर इस वजह से लगाई रोक

भर्ती प्रक्रिया निष्पक्ष और पारदर्शी होनी चाहिए.
भर्ती प्रक्रिया निष्पक्ष और पारदर्शी होनी चाहिए.

बेदी ने मुख्य सचिव एवं गृह विभाग के प्रभारी से कहा है कि प्राप्त शिकायतों पर एक सक्षम प्राधिकारी द्वारा निर्णय लेने तक भर्ती प्रक्रिया पर रोक लगायी जाए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 31, 2020, 4:38 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पुडुचेरी की उपराज्यपाल किरन बेदी ने मुख्य सचिव अश्विनी कुमार से कान्स्टेबल की भर्ती प्रक्रिया रोकने के लिए कहा है क्योंकि इसके खिलाफ शिकायतें मिली हैं.

एग्जाम मैनुअल तरीके से संचालित करने पर मिलीं शिकायतें
उपराज्यपाल ने एक व्हाट्एप संदेश में कहा कि उन्हें मैदानी परीक्षा डिजिटल या बायो-मैट्रिक प्रक्रिया के बजाय मैनुअल तरीके से संचालित करने के प्रस्तावित बदलाव को लेकर जनता से शिकायतें मिली थीं.

चयन प्रक्रिया नवंबर के पहले सप्ताह में शुरू होनी थी
कांस्टेबलों के 390 पदों के लिए चयन की प्रक्रिया नवंबर के पहले सप्ताह के दौरान शुरू होनी थी. उन्होंने कहा कि शिकायतें दूरदराज के क्षेत्रों में शारीरिक मानकों और शारीरिक मजबूती परीक्षा को लेकर भी थीं जहां स्विमिंग पूल और 400-मीटर-ट्रैक उपलब्ध नहीं हैं.



भर्ती प्रक्रिया निष्पक्ष और पारदर्शी
बेदी ने कहा कि भर्ती प्रक्रिया निष्पक्ष और पारदर्शी होनी चाहिए तथा यह सरकार द्वारा अनुमोदित और अधिसूचित नियमों के अनुसार होनी चाहिए.

ये भी पढ़ें-
RRB Exam Date 2020: रेलवे मिनिस्ट्रियल व आइसोलेटेड कैटेगिरी पोस्ट के लिए एग्जाम डेट जारी
SSC MTS पेपर-2 रिजल्ट ssc.nic.in पर जारी, 20 हजार से ज्यादा कैंडिडेट्स क्वालीफाई

शिकायतों पर निर्णय लेने तक भर्ती प्रक्रिया पर रोक
बेदी ने कहा कि किसी भी बदलाव के गंभीर परिणाम होंगे और मामला अदालत में जा सकता है. इसलिए, उन्होंने मुख्य सचिव एवं गृह विभाग के प्रभारी से कहा है कि प्राप्त शिकायतों पर एक सक्षम प्राधिकारी द्वारा निर्णय लेने तक भर्ती प्रक्रिया पर रोक लगायी जाए. इसके अलावा, बेदी ने कुमार से कहा कि वह तुरंत संबंधित फाइलों को उनके समक्ष प्रस्तुत करें.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज