कोरोना वायरस से डॉक्टरों को बचाने के लिए बन रहा है खास तरह का सूट, ये होंगी खूबियां

कोरोना वायरस से डॉक्टरों को बचाने के लिए बन रहा है खास तरह का सूट, ये होंगी खूबियां
पा

इस कवच का नाम है हजमट सूट. भारत के अलावा हर देश इस सूट का पहले से इस्तेमाल कर रहा है. सिर्फ कोरोना ही नहीं बल्कि इबोला के समय भी इस सूट का इस्तेमाल हुआ था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 29, 2020, 9:50 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली.कोरोना संक्रमिक मरीजों का इलाज करते हुए भारत समेत दुनिया भर के कई देशों में डॉक्टर संक्रमऩ का शिकार हो जाते हैं. ऐसे में आम जनता के साथ-साथ डॉक्टरों का ख्याल रखना भी सरकार की प्राथमिकता है. इसलिए अब भारत एक कवच का निर्माण कर रहा है. कवच का नाम है हजमट सूट. भारत के अलावा हर देश इस सूट का पहले से इस्तेमाल कर रहा है. सिर्फ कोरोना ही नहीं बल्कि इबोला के समय भी इस सूट का इस्तेमाल हुआ था. इस सूट के बारे में जानते हैं सब कुछ...





-ये सूट डॉक्टर और नर्स को वायरस से संक्रमित होने से बचाता है. बता दें कि बुधवार को रूसी राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन ने इस हजमत सूट की मदद से लोगों की मदद की.
- हजमत सूट को हेजार्डस मटेरियल सूट भी कहते हैं. इससे पूरे शरीर को ढ़का जाता है.
- यह खतरनाक पदार्थों, रसायनों और जैविक एजेंटों से मानव शरीर की रक्षा करता है.
- पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्विपमेंट (PPE) (डॉक्टर और चिकित्साकर्मी मरीजों का इलाज करते समय इस्तेमाल करते हैं) का ही रूप है ये हजमत सूट, जिसके साथ चश्मों का भी इस्तेमाल होता है.
- अलग-अलग प्रोटोकॉल का इस्तेमाल इसे पहनने समय किया जाता है. पहनते समय ध्यान देते हैं कि इसके साथ कोई वायरस अंदर तो नहीं जा रहा.
- मानव शरीर में किसी भी प्रकार का वायरस प्रवेश न करें इसलिए इसका निर्माण अलग तरीके से किया जाता था.

ये भी पढ़ें- ये भी पढ़ें- कोरोना का असर: अब महाराष्ट्र सरकार ने राज्य के स्कूलों को फीस न लेने का दिया आदेश
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading