UPSEE Counselling 2020: एक लाख सीटों पर काउसिलिंग शुरू, भूल न जाएं ये जरूरी डॉक्युमेंट्स

UPSEE के काउंसिलिंग में इन डॉक्युमेंट्स की जरूरत होगी.
UPSEE के काउंसिलिंग में इन डॉक्युमेंट्स की जरूरत होगी.

UPSEE Counselling Process: तकरीबन एक लाख सीटों के लिए काउसिलिंग की प्रक्रिया होगी. रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया दोपहर 2 बजे शुरू होगी और इसका अंतिम दिन 22 अक्टूबर होगा. इस बार छह राउंड काउंसलिंग होगी और यह प्रक्रिया 5 दिसम्बर तक चलेगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 19, 2020, 11:33 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. उत्तर प्रदेश की इंजीनियरिंग, मैनेजमेंट और फार्मेसी कॉलेजों में एडमिशन के लिए हुए UPSEE टेस्ट के बाद काउंसलिंग प्रक्रिया आज शुरू होगी. इसमें भाग लेने के लिए छात्र-छात्राओं को upsee.nic.in पर रजिस्ट्रेशन कराना होगा. लखनऊ के डॉक्टर एपीजे अब्दुल कलाम तकनीकी विश्वविद्यालय के माध्यम से यह काउंसलिंग होगी. तकरीबन एक लाख सीटों के लिए यह प्रक्रिया होगी. रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया दोपहर 2 बजे शुरू होगी और इसका अंतिम दिन 22 अक्टूबर होगा.
इस बार छह राउंड काउंसलिंग होगी और यह प्रक्रिया 5 दिसम्बर तक चलेगी. पहली अलॉटमेंट प्रक्रिया 26 अक्टूबर को खत्म होगी और एडमिशन 19 अक्टूबर तक लिया जा सकेगा. 15 अक्टूबर को ही UPSEE परीक्षा का परिणाम घोषित किया गया है.

काउंसलिंग के लिए आधिकारिक वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन के समय कुछ डॉक्यूमेंट जमा कराने होंगे जो इस प्रकार है.
1. UPSEE रैंक कार्ड
2. UPSEE एडमिट कार्ड
3. 10वीं और 12वीं की मार्क शीट और स्टैंडर्ड सर्टिफिकेट


4. मूल निवास प्रमाण पत्र
5. अगर उत्तर प्रदेश से बाहर के अभ्यर्थी हैं, तो अभिभावकों का मूल निवास प्रमाण पत्र
6. ग्रामीण वेटेज प्रमाण पत्र (अगर अप्लाई होता है तो)
7. चरित्र प्रमाण पत्र
8. कैटेगरी सर्टिफिकेट (अगर अप्लाई होता है तो)
9. स्वतंत्रता सेनानियों/सेना के लोगों, विकलांग स्टूडेंट्स के लिए सब-कैटेगरी सर्टिफिकेट (अगर अप्लाई होता है तो)
10. मेडिकल फिटनेस का सर्टिफिकेट और मेडिकल अंडरटेकिंग
11. आर्थिक रूप से कमजोर स्टूडेंट्स के लिए आय प्रमाण पत्र

अभ्यर्थियों को यह नहीं भूलना चाहिए कि काउंसलिंग के लिए वास्तव में कौन से डॉक्यूमेंट अपलोड करने हैं, इसके बारे में रजिस्ट्रेशन के लिए लोग इन करने पर पता चलेगा. ऊपर बताए गए डॉक्यूमेंट में से जिनके लिए आप योग्य हों, वह अपने पास रखकर लोग इन करें. अभ्यर्थी की कैटेगरी और स्थिति के अनुसार लोग इन पोर्टल में डोक्यूमेंट अपलोड करने होंगे. डॉक्यूमेंट अपलोड करने के बाद उन्हें वैरीफाई किया जाएगा और सब कुछ सही पाए जाने की स्थिति में उन्हें मोबाइल पर मैसेज भेजा जाएगा. इसके बाद स्टूडेंट्स अपनी पसंद भरने के लिए योग्य माने जाएंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज