CTET 2020: परीक्षा में पास होने के ल‍िये जरूरी है इन टॉप‍िक्‍स पर ध्‍यान देना, जरूर पढ़ें

CTET 2020: परीक्षा में पास होने के ल‍िये जरूरी है इन टॉप‍िक्‍स पर ध्‍यान देना, जरूर पढ़ें
CTET परीक्षा में काम आएंगे ये ट‍िप्‍स

CTET 2020 परीक्षा में भाग लेने जा रहे उम्‍मीदवार, इन महत्‍वपूर्ण टॉप‍िक्‍स की तैयारी जरूर कर लें. इन टॉप‍िक्‍स से पूछे जाते हैं सबसे ज्‍यादा प्रश्‍न.

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 31, 2020, 11:29 AM IST
  • Share this:
CTET 2020: स्‍कूलों में श‍िक्षक बनने के इच्‍छुक उम्‍मीदवारों को सीटीईटी परीक्षा पास करनी पड़ती है. इस परीक्षा को पास करने के बाद ही वह श‍िक्षक भर्ती परीक्षाओं के ल‍िये योग्‍य माने जाते हैं. सीटीईटी (CTET) स्‍कोर की वैधता 7 साल की होती है. इस दौरान यदि स्‍कूलों में वैकेंसी जारी होती है तो सीटीईटी करने वाले उम्‍मीदवार आवेदन कर सकते हैं. मसलन, विभिन्न सरकारी स्कूलों जैसे क‍ि नवोदय विद्यालय समिति, केंद्रीय विद्यालय व अन्य स्कूलों में श‍िक्षक पदों के ल‍िये वे आवेदन कर सकते हैं.
 
CTET में होते हैं दो पेपर:
CTET में दो पेपर होते हैं और एक उम्‍मीदवार दोनों पेपर दे सकता है. पहला पेपर उन अभ्‍यर्थ‍ियों के ल‍िये होता है जो पहली से 5वीं कक्षा तक के छात्रों को पढ़ाना चाहते हैं और दूसरा पेपर ऐसे अभ्‍यर्थ‍ियों के ल‍िये जो 6वीं से 8वीं कक्षा तक के छात्रों को पढ़ाना चाहते हैं.
ऐसे उम्‍मीदवार जो पहली से आठवीं कक्षा तक की कक्षा में पढ़ाना चाहते हैं, उन्‍हें दोनों पेपर (CTET Paper I , II) में पास होना होगा.

परीक्षा में क्‍वाल‍िफाई करने वाले उम्‍मीदवारों को CTET सर्ट‍िफ‍िकेट द‍िया जाता है, जो 7 साल के ल‍िये वैलिड होता है. इसके बाद उम्‍मीदवार KVS, NVS, CTS और अन्‍य सरकारी स्‍कूलों में आवेदन करने के ल‍िये योग्‍य माने जाते हैं.



CTET 2020: महत्‍वपूर्ण हैं ये टॉप‍िक्‍स
1-बाल विकास और उसके सीखने के संबंध
2- शिक्षा अधिनियम से संबंधित प्रश्न
3- आनुवंशिकता और पर्यावरण का प्रभाव
4- समाजीकरण की प्रक्रिया
5- व्यक्तिगत मतभेद
6- आकलन और मूल्यांकन
7- समावेशी शिक्षा की अवधारणा
8- विशेष रूप से अभिभूत शिक्षार्थियों
9- सिद्धांतों से संबंधित प्रश्न
10- अनुभूति और भावनाएं
11- प्रेरणा और सीख
12- शिक्षण और सीखने की प्रक्रियाएं
13- शिक्षाशास्त्र के मुद्दे
14- व्यावहारिक प्रश्न

इन बातों का ध्‍यान रखें:
1. CTET, पेन और पेपर आधारित परीक्षा है.
2. हर पेपर मे 5 सेक्‍शन होंगे और हर सेक्‍शन में 30 प्रश्‍न पूछे जाएंगे.
3. कुल 150 प्रश्‍न हर पेपर में होंगे और हर प्रश्‍न 1 अंक का होगा.
4. कोई नेगेटिव मार्किंग नहीं होगी.
5. टेस्‍ट पूरा करने के ल‍िये छात्रों को 150 म‍िनट का वक्‍त म‍िलेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading