दिल्ली के सरकारी स्कूलों के 1000 फिजिकल एजुकेशन टीचर्स को 'शारीरिक साक्षरता' पर दी जाएगी ऑनलाइन ट्रेनिंग

दिल्ली के सरकारी स्कूलों के 1000 फिजिकल एजुकेशन टीचर्स को 'शारीरिक साक्षरता' पर दी जाएगी ऑनलाइन ट्रेनिंग
उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने सोमवार को यह जानकारी दी.

इससे छात्रों को अपने शरीर के बारे में जानने में मदद मिलेगी और वे अपनी अच्छी सेहत के लिये शारीरिक गतिविधियों में शामिल होंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 31, 2020, 6:00 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली सरकार के करीब 1,000 शारीरिक शिक्षा अध्यापकों को 'शारीरिक साक्षरता' (physical literacy training) पर पांच दिन तक ऑनलाइन प्रशिक्षण दिया जाएगा. उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने सोमवार को यह जानकारी दी. सिसोदिया ने प्रसिद्ध बैडमिंटन खिलाड़ी पुलेला गोपीचंद के खेल फाउंडेशन के सहयोग से आयोजित इस कार्यक्रम का उद्घाटन किया.

कोविड-19 के दौरान अध्यापकों की भूमिका और भी महत्वपूर्ण हो गई
सिसोदिया ने अध्यापकों से कहा, 'बीते कुछ साल में आप सभी ने हमारे छात्रों के जीवन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है. कोविड-19 के दौरान आपकी भूमिका और भी महत्वपूर्ण हो गई है क्योंकि हमारे छात्र अपने घरों में हैं. इससे सभी छात्रों के शारीरिक विकास पर प्रभाव पड़ा है.'

शारीरिक शिक्षा ज्ञान
उन्होंने कहा कि शारीरिक शिक्षा ऐसा ज्ञान है, जिसकी हमें पूरी जिंदगी 24 घंटे सातों दिन जरूरत होती है.



शारीरिक साक्षरता के विषय पर काम करना वक्त की जरूरत
सिसोदिया ने कहा, 'शारीरिक और मानसिक विकास एक दूसरे से जुड़े हुए हैं. आज जब हमारे बच्चे बाहर नहीं जा पा रहे हैं, तब शारीरिक साक्षरता के विषय पर काम करना वक्त की जरूरत बन गया है.

ये भी पढ़ें-
असिस्टेंट टीचर एग्जाम के लिए DEE असम फाइनल रिजल्ट dee.assam.gov.in पर जारी, चेक करें डायरेक्ट लिंक
नीट, जेईई के लिए करें सुरक्षा के व्यापक इंतजाम, निशंक का गोवाके CM से आग्रह

छात्र अपनी सेहत का ध्यान रखेंगे
सिसोदिया ने कहा, इससे छात्रों को अपने शरीर के बारे में जानने में मदद मिलेगी और वे अपनी अच्छी सेहत के लिये शारीरिक गतिविधियों में शामिल होंगे. '
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज