• Home
  • »
  • News
  • »
  • career
  • »
  • दिल्ली के लेफ्टिनेंट गवर्नर अनिल बैजल ने जेईई-नीट परीक्षा कराने की दी अनुमति!

दिल्ली के लेफ्टिनेंट गवर्नर अनिल बैजल ने जेईई-नीट परीक्षा कराने की दी अनुमति!

अनिल बैजल ने जेईई-नीट परीक्षा दिल्ली में कराने की अनुमति दे दी है.

सूत्रों ने बताया कि पिछले दिनों आपदा प्रबंधन अथॉरिटी (Disaster Management Authority) के साथ एलजी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Delhi Chief Minister Arvind Kejriwal) की हुई मीटिंग जिसमें परीक्षा करवाने का प्रस्ताव रखा गया था.

  • Share this:
       नई दिल्ली. पूरे देश में जब जेईई-नीट परीक्षा (JEE-NEET Exam) कंडक्ट कराने को लेकर कश-म-कश की स्थिति जारी है. ऐसे में दिल्ली के लेफ्टिनेंट गवर्नर अनिल बैजल (Anil Baijal) ने दिल्ली में परीक्षा करवाने की अनुमति दे दी है. खास बात है कि परीक्षा करवाने को लेकर दिल्ली सरकार ने आपत्ति जाहिर की थी. हिंदुस्तान टाइम्स की खबर के मुताबिक सूत्रों ने बताया कि पिछले दिनों आपदा प्रबंधन अथॉरिटी (Disaster Management Authority) के साथ एलजी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Delhi Chief Minister Arvind Kejriwal) की हुई मीटिंग जिसमें परीक्षा करवाने का प्रस्ताव रखा गया था.

    दिल्ली सरकार ने की परीक्षा न करवाने की सिफारिश
    एलजी को भेजी गई एक फाइल में दिल्ली सरकार ने शनिवार को सिफारिश की थी कि कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus Pandemic) को देखते हुए अभी परीक्षा न करवाई जाए. हालांकि, एलजी ने परीक्षा को कंडक्ट करवाने का फैसला लिया और फाइल को वापस कर दिया.

    जारी है विरोधाभास की स्थिति
    बता दें कि जेईई-नीट परीक्षा (JEE-NEET Exam) करवाने को लेकर विरोध की स्थिति लगातार बरकरार है. विपक्षी पार्टियों का मानना है कि इससे छात्रों के स्वास्थ्य पर विपरीत प्रभाव पड़ सकता है. ममता बनर्जी और राहुल गांधी सहित बीजेपी से राज्य सभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी (Subramanian Swamy) ने भी परीक्षा को टाले जाने की मांग की थी. उन्होंने कहा कि परीक्षा करवाना नसबंदी जैसी गलती होगी.

    ये भी पढ़ें :-
    फाइनल ईयर एग्जाम्स 30 सितंबर तक कराए जाएंगे, SC ने दिखाई हरी झंडी
    बड़ी बात: सितंबर में क्यों होना चाहिए नीट और जेईई एग्जाम, ज़रूर जानें

    शिक्षाविदों ने बताया पोलिटिकल एजेंडा
    हालांकि, शिक्षाविद परीक्षा कराए जाने के पक्ष में हैं. जेएनयू के वाइस चांसलर और आईआईटी दिल्ली के निदेशक सहित तमाम जाने माने शिक्षाविदों ने परीक्षा समय पर करवाने की मांग की है. करीब 150 एकेडमीशियंस ने इस संबंध में पीएम मोदी को चिट्ठी भी लिखी है. एक्स्पर्ट्स का मानना है जेईई-नीट परीक्षा का विरोध एक पोलिटिकल एजेंडा है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज