बिहार से ज्‍यादा दिल्‍ली से बनते हैं IAS अधिकारी, ये हैं 2 बड़ी वजहें

News18Hindi
Updated: August 22, 2019, 4:44 PM IST
बिहार से ज्‍यादा दिल्‍ली से बनते हैं IAS अधिकारी, ये हैं 2 बड़ी वजहें
साल 2017-2018 में दिल्‍ली से 17 कैंडीडेट्स का सेलेक्‍शन हुआ था, जबकि बिहार से इस साल में 12, तमिलनाडू से 8 और कर्नाटक से 6 उम्‍मीदवारों का सेलेक्‍शन हुआ था, जानें डिटेल..

साल 2017-2018 में दिल्‍ली से 17 कैंडीडेट्स का सेलेक्‍शन हुआ था, जबकि बिहार से इस साल में 12, तमिलनाडू से 8 और कर्नाटक से 6 उम्‍मीदवारों का सेलेक्‍शन हुआ था, जानें डिटेल..

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 22, 2019, 4:44 PM IST
  • Share this:
संघ लोक सेवा आयोग (Union Public Service Commission) द्वारा आयोजित की जाना वाली सिविल सर्विस एग्‍जाम (Civil services examination preparation) में हमेशा ही बिहार राज्‍य का दबदबा देखने को मिलता रहा है. ऐसी रिपोर्ट हैं कि इस राज्‍य से सबसे ज्‍यादा आईएएस अधिकारी निकलते हैं लेकिन अब तस्‍वीर कुछ बदली नजर आ रही है. ताजा आंकड़ों के मुताबिक बिहार नहीं बल्‍कि दिल्‍ली से सबसे ज्‍यादा IAS अफसर निकल रहे हैं. जी हां दिल्‍ली से न केवल ज्‍यादा उम्‍मीदवार ये परीक्षा क्रैक कर रहे हैं बल्‍कि सफल भी हो रहे हैं. ऐसे में कह सकते हैं कि दिल्‍ली ने बिहार को पछाड़ दिया है.

साल 2017-2018 में दिल्‍ली से 17 कैंडीडेट्स का सेलेक्‍शन हुआ था, जबकि बिहार से इस साल में 12, तमिलनाडू से 8 और कर्नाटक से 6 उम्‍मीदवारों का सेलेक्‍शन हुआ था. वहीं साल 2016-2017 में दिल्‍ली में 12, साल 2015-2016 में 9 और 2013-2014 में 14 उम्‍मीदवारों का सेलेक्‍शन हुआ था. ये आंकड़ा अन्‍य राज्‍यों से काफी पीछे है.



ये हैं 2 बड़ी वजहें

-मीडिया रिपोर्ट को दिए इंटरव्‍यू में कॉम्‍प्‍टेटिव (competitive exams) के संयोजक देवेंद्र सिंह ने कहा कि वे बड़े शहर जहां अंग्रेजी भाषी उम्‍मीदवार ज्‍यादा हैं, वे सबसे ज्‍यादा सफलता हासिल कर रहे हैं. अंग्रेजी भाषा वाले उम्‍मीदवार सबसे ज्‍यादा सफल होते हैं.

-इसके अलावा यहां के इंजीनियर भी सबसे ज्‍यादा UPSC एग्‍जाम क्रैक कर लेते हैं.  ये सुनने में थोड़ा अजीब लगेगा लेकिन हकीकत यही है कि इस बैकग्राउंड वाले लोग भी इस परीक्षा में सबसे ज्‍यादा सफल होते हैं.

ये भी पढ़ें: 
Loading...

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दरभंगा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 22, 2019, 4:11 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...