DU Admissions 2020: पीजी एडमिशन प्रक्रिया में हुआ बदलाव, जानिए क्या है नया

DU Admissions 2020: पीजी एडमिशन प्रक्रिया में हुआ बदलाव, जानिए क्या है नया
दिल्ली यूनिवर्सिटी ने इस बार एडमिशन की प्रक्रिया में बदलाव किया है.

DU Admissions 2020: कोविड-19 के चलते सोशल डिस्टेंसिंग मेनेटेन करना काफी मुश्किल होगा क्योंकि छात्रों की संख्या काफी ज्यादा है. इसलिए एडमिशन प्रक्रिया में बदलाव किए गए हैं.

  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली विश्वविद्यालय (Delhi University) 20 जून, 2020 से फिर से रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया (DU PG Courses Registration Process) को शुरू करेगा. लेकिन इस बार पीजी एडमिशन के लिए ग्रुप डिस्कशन और इंटरव्यू (GD and Interview) नहीं करवाया जाएगा. इसके पहले के एडमिशन के लिए इस प्रक्रिया को 15 परसेंट का वेटेज दिया जाता था. यूनिवर्सिटी के स्टैंडिंग कमेटी के सदस्य अरुण कुमार अत्रि ने कहा कि पहले पीजी कोर्सेज के लिए इंटरव्यू वगैरह करवाए जाते थे लेकिन इस साल इंटरव्यू या जीडी नहीं करवाया जाएगा.

सोशल डिस्टेंसिंग मेनटेन करने में होगी दिक्कत
टाइम्स नाउ के मुताबिक यूनिवर्सिटी के अधिकारी ने बताया कि कोविड-19 के चलते सोशल डिस्टेंसिंग मेनेटेन करना काफी मुश्किल होगा क्योंकि छात्रों की संख्या काफी ज्यादा है. इसलिए इस साल पूरी तरह से कॉन्टैक्टलेस एडमिशन प्रक्रिया अपनाई जाएगी.

नहीं होगा स्पोर्ट्स ट्रायल
बता दें कि इसके अलावा इस साल ईसीए एडमिशन के लिए स्पोर्ट्स ट्रायल भी नहीं करवाया जाएगा. कैंडीडेट्स को उनके अचीवमेंट के लिए दिए गए सर्टिफिकेट के आधार पर एडमिशन दिया जाएगा. यह फैसला भी कोरोना वायरस महामारी के चलते लिया गया है.



ऑनलाइन करना होगा अप्लाई
कैंडीडेट्स को हर बार यूनिवर्सिटी कैंपस में रिपोर्ट नहीं करना होगा, बल्कि कट-ऑफ लिस्ट के रिलीज होने के बाद छात्र कॉलेज के लिए अप्लाई कर पाएंगे. समय की जरूरत को समझते हुए इस बार अप्लीकेशन प्रक्रिया को ऑनलाइन कर दिया गया है. कैंडीडेट्स डीयू टाइमटेबल को आधिकारिक वेबसाइट पर चेक कर सकते हैं.

बता दें कि एडमिशन प्रक्रिया के अलावा इस साल दिल्ली विश्वविद्यालय ने कोरोना वायरस महामारी की वजह से ओपन बुक परीक्षा करवाने की योजना बनाई है. चूंकि इतने बड़े स्तर पर सोशल डिस्टेंसिंग को मेनटेन करना काफी मुश्किल होता इसलिए यूनिवर्सिटी ने ऐसा कदम उठाया. इसमें छात्रों को अपने घर से ही परीक्षा देने की सुविधा मिलेगी. अब तक कोरोना वायरस की वजह से पूरे देश में तीन लाख से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं और 9 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज