DU कट-ऑफ का इंतजार कर रहे स्टूडेंट्स के लिए जरूरी खबर, जानिए आप पर पड़ेगा क्या असर

DU कट-ऑफ का इंतजार कर रहे स्टूडेंट्स के लिए जरूरी खबर, जानिए आप पर पड़ेगा क्या असर
सीबीएसई कक्षा 12 में छात्रों ने 95 प्रतिशत से अधिक नंबर हासिल किए हैं.

कट-ऑफ की घोषणा 12 अक्टूबर के बाद की जारी जाएगी. उम्मीद है कि इस सप्ताह में कट-ऑफ के लिए कार्यक्रम की घोषणा की जाए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 17, 2020, 11:51 AM IST
  • Share this:
DU कट-ऑफ का इंतजार कर रहे स्टूडेंट्स के लिए जरूरी खबर, जानिए आप पर पड़ेगा क्या असरनई दिल्ली. सेंट स्टीफंस कॉलेज ने बीए (ऑनर्स) इकोनॉमिक्स के लिए 99.25% पर अपनी हाईएस्ट कट-ऑफ पेश की. बुधवार को दिल्ली विश्वविद्यालय के अधिकारियों ने कहा कि कट-ऑफ पिछले साल की तुलना में अधिक होगी, क्योंकि सीबीएसई कक्षा 12 की परीक्षा इस साल बड़ी संख्या में छात्रों ने 95 प्रतिशत से अधिक नंबर हासिल किए हैं.

सीबीएसई बोर्ड के छात्रों से 2,85,128 आवेदन प्राप्त हुए
विश्वविद्यालय को सीबीएसई बोर्ड के छात्रों से 2,85,128 आवेदन प्राप्त हुए हैं. सेंट स्टीफन कॉलेज ने मंगलवार रात को अंडरग्रेजुएट कोर्सेज के लिए अपनी पहली कट-ऑफ सूची जारी की, जिसमें सबसे अधिक कट-ऑफ की घोषणा कॉमर्स बैकग्राउंड से आने वाले छात्रों के लिए बीए (ऑनर्स) अर्थशास्त्र के लिए 99.25 प्रतिशत रही.

 इस वर्ष की कट-ऑफ अधिक है
पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष की कट-ऑफ अधिक है. 2019 में, बीए (ऑनर्स) अंग्रेजी और बीए (ऑनर्स) अर्थशास्त्र के लिए कटऑफ 98.75 प्रतिशत थी, जो कॉमर्स के छात्रों के लिए थी.



-बीए (ऑनर्स) अर्थशास्त्र के लिए कटऑफ- कॉमर्स छात्रों के लिए 99.25 प्रतिशत, ह्यूमैनिटीज के लिए 98.75 प्रतिशत और साइंस स्ट्रीम के छात्रों के लिए 98 प्रतिशत है.

इस वर्ष कट-ऑफ कॉमर्स और साइंस के छात्रों के लिए ज्यादा
बीए अंग्रेजी (ऑनर्स) के लिए कटऑफ कॉमर्स छात्रों के लिए 99 प्रतिशत, ह्यूमैनिटीज और ह्यूमैनिटीज छात्रों के लिए 98.75 प्रतिशत है. इस वर्ष का कट-ऑफ कॉमर्स और साइंस के छात्रों के लिए 0.25 प्रतिशत अधिक है.

कट-ऑफ हई होने वाली है
टाइम्स नाऊ की खबर के मुताबिक, विशेषज्ञों ने कहा है कि सेंट स्टीफन कॉलेज की उच्च कट-ऑफ ने अन्य कॉलेजों के लिए एक मिसाल कायम की, जो ये दर्शाता है कि कट-ऑफ हई होने वाली है.

कट-ऑफ की घोषणा 12 अक्टूबर के बाद 
शोभा बगई (Dean Admissions DU) ने कहा, कट-ऑफ की घोषणा 12 अक्टूबर के बाद की जारी जाएगी. हमने प्रशासन को कार्यक्रम भेज दिया है. प्रशासन यूजीसी के कैलेंडर का इंतजार कर रहा है. हमें उम्मीद है कि इस सप्ताह में कट-ऑफ के लिए कार्यक्रम की घोषणा की जानी चाहिए.

ये भी पढ़ें-
SSC CGL, CHSL, JE के लिये अब कर सकते हैं सेंटर में बदलाव, पढ़ें पूरी डिटेल

BPSC notification 2020: 66वें सिविल सेवा भर्ती परीक्षा के लिये नोटिफिकेशन जारी

कट-ऑफ का निर्धारण एक निश्चित ब्रैकेट में आने वाले आवेदकों की संख्या से
कट-ऑफ की संभावना अधिक होने के बारे में पूछे जाने पर, उन्होंने कहा कि ऐसा नहीं है कि विश्वविद्यालय मनमाने ढंग से कट-ऑफ बढ़ा रहे हैं. अधिकारी ने कहा कि कट-ऑफ का निर्धारण एक निश्चित ब्रैकेट में आने वाले आवेदकों की संख्या से होगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज