विश्वविद्यालयों और कॉलेजों में नवंबर से शुरू होगा नया सत्र, पढ़ें पूरी खबर

विश्वविद्यालयों और कॉलेजों में नवंबर से शुरू होगा नया सत्र, पढ़ें पूरी खबर
विश्वविद्यालयों में 15 अगस्त के बाद फाइनल ईयर की परीक्षा आयोजित होगी

डीयू प्रशासन 15 अगस्त के बाद होने वाले ओपन बुक एग्जाम पर अपनी तैयारी के आधार पर शेड्यूल जारी करेगा.

  • Share this:
मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने को मंत्रालय, यूजीसी समेत अन्य पदाधिकारियों के साथ बैठक की. इसी बैठक में तय किया गया दिल्ली विश्वविद्यालय समेत देश के सभी विश्वविद्यालय जेईई मेन और नीट 2020 परीक्षा का रिजल्ट जारी होने तक अपने यहां एडमिशन जारी रखें. देश की तमाम यूनिवर्सिटी में एडमिशन चालू रखने के पीछे मकसद यह है कि कोई भी छात्र उच्च शिक्षा में दाखिले से वंचित न रहे.

इसी बैठक में यह फैसला लिया गया कि विश्वविद्यालयों और कॉलेजों में शैक्षणिक सत्र 2020-21 नवंबर से शुरू होगा. यूजीसी की संशोधित गाइडलाइन के बाद दिल्ली विश्वविद्यालय में ओपन बुक एग्जाम 15 अगस्त के बाद होंगे. डीयू प्रशासन को दस जुलाई से शुरू होने वाली परीक्षा स्थगित करने को कहा गया है.

डीयू प्रशासन 15 अगस्त के बाद होने वाले ओपन बुक एग्जाम पर अपनी तैयारी के आधार पर शेड्यूल जारी करेगा. इस शेड्यूल से पहले प्रशासन एक रिपोर्ट मंत्रालय को देकर यह बताएगा कि छात्रों को इससे किसी प्रकार की परेशानी नहीं होगी.



सूत्रों के मुताबिक, विश्वविद्यालयों में 15 अगस्त के बाद 30 सितंबर तक फाइनल ईयर की परीक्षा आयोजित करने बाद अक्तूबर या नवंबर तक रिजल्ट जारी हो जाएंगे. इस मुताबिक विश्वविद्यालयों और कॉलेजों में शैक्षणिक सत्र 2020-21 नवंबर तक शुरू हो पाएगा.
केंद्रीय मंत्री ने डीयू ओपन बुक एग्जाम मामले में छात्रों की दिक्कतों पर यूजीसी और दिल्ली विश्वविद्यालय प्रशासन से रिपोर्ट ली. इसी के आधार पर केंद्रीय मंत्री ने यूजीसी और दिल्ली विश्विद्यालय प्रशासन को निर्देश दिया कि 15 अगस्त के बाद परीक्षा आयोजित की जाए.

ये भी पढ़ें-
RBSE 12th Science Result: राजस्थान बोर्ड 12वीं का रिजल्ट इन वेबसाइट्स पर देखें
Jharkhand Board 10th Result: झारखंड बोर्ड 10वीं का रिजल्ट इन वेबसाइट पर देखें

15 अगस्त के बाद परीक्षा आयोजित करने को लेकर अभी लगभग एक महीने का वक्त बाकी है. इस एक महीने में ओपन बुक एग्जाम को लेकर डीयू अपनी तैयारी जांचें. इसके अलावा छात्रों को भी परीक्षा की तैयारी का मौका मिलेगा. जिन छात्रों के पास ऑनलाइन परीक्षा देने का साधन नहीं है, वे भी तैयारी कर सकेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज