दिल्ली विश्वविद्यालय ने दूसरी कट ऑफ जारी की, Gen OBC की सीटें कई सबजेक्ट्स में फुल

दिल्ली यूनिवर्सिटी में एडमिशन लेना मुश्किल होता जा र‍ाहा है.
दिल्ली यूनिवर्सिटी में एडमिशन लेना मुश्किल होता जा र‍ाहा है.

रामजस कॉलेज के प्रधानाचार्य मनोज खन्ना ने कहा कि इस साल पिछले साल की तुलना में डेढ़ गुना अधिक दाखिले हो चुके हैं. लगभग 2,000 सीटों में से 1,054 सीटों पर दाखिला हो चुका है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 18, 2020, 2:20 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली विश्वविद्यालय ने शनिवार को अपनी दूसरी ‘कट ऑफ’ जारी कर दी. हालांकि, कई कॉलेजों में कुछ विषयों में दाखिल बंद हो गया हो गया है, जबकि कुछ विषयों के लिये ‘कट ऑफ’ पहली सूची के ही समान हैं.

अनराक्षति श्रेणी के लिये यहां पर दाखिला बंद
हिंदू कॉलेज और इंद्रप्रस्थ (आई पी) कॉलेज ऑफ वुमन में बीए (ऑनर्स) अंग्रेजी प्रोग्राम के लिये दाखिला दूसरी सूची में अनराक्षति श्रेणी के लिये बंद हो गया है. पहली कट ऑफ पिछले शनिवार को जारी की गई थी, जिसके बाद करीब 50 प्रतिशत सीटें भरी गई हैं. विश्वविद्यालय में स्नताक की पढ़ाई के लिये 70,000 सीटें हैं.

पहली कटऑफ के बाद दाखिला लेने वालों की संख्या में वृद्धि
दूसरी सूची के तहत दाखिले सोमवार सुबह 10 बजे से शुरू होंगे. दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) ने कहा है कि कोविड-19 के चलते ऑनलाइन प्रक्रिया होने से इस साल पहली कटऑफ के बाद दाखिला लेने वालों की संख्या में अच्छी खासी वृद्धि हुई है.



29 हजार छात्र दाखिला ले चुके 
डीयू के अधिकारियों ने बताया कि पिछले साल पहली कट-ऑफ आने के बाद लगभग 24,000 छात्रों ने दाखिला लिया था, लेकिन इस साल 29 हजार छात्र दाखिला ले चुके हैं. यह अब तक की सबसे अधिक संख्या है. कॉलेजों ने कहा कि 2020 में उनके यहां दाखिलों में अच्छी खासी वृद्धि हुई है.

आवेदकों की संख्या में जबरदस्त उछाल 
दिल्ली विश्वविद्यालय की डीन (दाखिले) शोभा बगाई ने कहा कि कॉलेजों में दाखिला लेने वालों की संख्या बढ़ी है. उन्होंने कहा, 'विशाखापत्तनम या मणिपुर में बैठा कोई छात्र कॉलेज आए बगैर ऑनलाइन आवेदन कर सकता है. इससे पहले उन्हें दाखिले के लिये कॉलेज आना पड़ता था, लेकिन अब वे अपने घर बैठे दाखिला ले सकते हैं. इससे आवेदकों की संख्या में जबरदस्त उछाल आया है.'

इस साल लगभग दोगुने दाखिले
आर्यभट कॉलेज के प्रधानाचार्य मनोज सिन्हा ने कहा कि पिछले साल तक कॉलेज में पहली कट-ऑफ आने के बाद 100 या इससे भी कम दाखिले होते थे, लेकिन इस साल 180 छात्र दाखिला ले चुके हैं.'

ये भी पढ़ें-
CUCET results 2020: इंतजार खत्‍म, cucetexam.in पर जारी हुआ परिणाम
SSC CHSL Exam 2020: कर्मचारी चयन आयोग ने जारी की जरूरी नोटिस, सीएचएसएल अभ्‍यर्थी जरूर पढ़ें

2,000 में से 1 1,054 सीटों पर दाखिला हो चुका 
रामजस कॉलेज के प्रधानाचार्य मनोज खन्ना ने कहा कि इस साल पिछले साल की तुलना में डेढ़ गुना अधिक दाखिले हो चुके हैं. खन्ना ने कहा कि लगभग 2,000 सीटों में से 1,054 सीटों पर दाखिला हो चुका है जबकि 700 छात्र अपनी फीस भी जमा करा चुके हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज