कोविड-19 के चलते अब इस राज्य ने सिलेबस कम करने का लिया फैसला, जानें डिटेल

कोविड-19 के चलते अब इस राज्य ने सिलेबस कम करने का लिया फैसला, जानें डिटेल
बच्चों पर दबाव कम करने के लिए सिलेबस को घटाने का फैसला किया गया है.

कोरोना वायरस के कारण पिछले चार महीनों से स्कूल कॉलेज बंद हैं. सिलेबस घटाए जाने से बच्चों पर दबाव कुछ कम होगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 8, 2020, 9:33 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पूरे देश में फैले कोरोना वायरस (Coronavirus Pandemic) की वजह से जहां राज्य लगातार स्कूल खोलने पर विचार कर रहे हैं वहीं साथ ही साथ इस बात पर भी विचार चल रहा है कि जिस तरह से बच्चों की पढ़ाई का नुकसान हुआ है उसके असर को कैसे कम किया जाए ताकि बच्चों के मन पर बुरा प्रभाव न पड़े. इसके लिए तमाम तरह के कदम उठाए जा रहे हैं. हाल ही में सीबीएसई (CBSE) ने बच्चों पर दबाव कम करने के लिए सिलेबस घटाने का फैसला किया था.

स्कूल का सिलेबस घटाने का फैसला
इस कड़ी में ओडिशा सरकार ने फैसला किया है कि साल 2020-21 के लिए स्कूल का सिलेबस घटाया जाए. राज्य के उच्चतर माध्यमिक शिक्षा परिषद ने स्कूल के पाठ्यक्रम को घटाने का फैसला लिया है. हालांकि, अभी तक यह फैसला नहीं हो पाया है कि सिलेबस में से कौन से टॉपिक हटाए जाने हैं और किनको रखा जाना है. इसके बारे में सिलेबस कमेटी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मीटिंग करके आने वाले समय में फैसला लेगी.

स्कूलों को लिख गया है पत्र
इस संदर्भ में सभी स्कूलों को लिखे गए पत्र में कहा गया है कि कोविड-19 महामारी के कारण देशव्यापी लॉकडाउन के चलते इस एकेडमिक सेशन में टीचिंग पर विपरीत प्रभाव पड़ा है. इसलिए मीटिंग करने के बाद इस बात का फैसला किया जाएगा कि हर विषय से ऐसे पार्ट को निकाला जाए ताकि पाठ्यक्रम खास टॉपिक्स भी न छूटें और छात्रों पर अधिक दबाव भी न पड़े.



ये भी पढ़ेंः


सीबीएसई ने भी घटाए सिलेबस

हाल ही में सीबीएसई ने भी कोरोना वायरस महामारी को देखते हुए सिलेबस को 30 फीसदी तक घटाए जाने की घोषणा की थी. ओडिशा उच्चतर माध्यमिक शिक्षा परिषद द्वारा जारी बयान में कहा गया कि सीबीएसई और कुछ अन्य राज्यों ने सिलेबस को घटाने का फैसला किया है जिसे देखते हुए हमने भी ऐसा करने का फैसला किया है ताकि छात्रों पर ज्यादा दबाव न पड़े.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज